'अमरीका ने संघर्ष विराम को ख़तरे में डाला'

सीरिया का आरोप है कि उसके सैनिकों पर हमला किया गया.

इमेज स्रोत, EPA

इमेज कैप्शन,

सीरिया का आरोप है कि उसके सैनिकों पर हमला किया गया.

रूस का कहना है पूर्वी सीरिया में तथाकथित इस्लामिक स्टेट से लड़ रहे सीरियाई सैनिकों की अमरीकी नेतृत्व में हुए हवाई हमले में मौत ने संघर्ष-विराम को ख़तरे में डाल दिया है.

संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत विताली चर्किन का कहना था कि इस हमले ने संघर्ष-विराम के भविष्य पर ''एक बड़ा सवालिया निशान खड़ा कर दिया है.''

रूसी सेना का कहना कि दिर अल जोर में हुए हमलों में 62 सीरियाई सैनिक मारे गए हैं.

अमरीका ने ''अनजाने में हुई मौतों'' के लिए ''खेद'' व्यक्त किया है.

इमेज स्रोत, AFP

इमेज कैप्शन,

अमरीकी नेतृत्व में हुए हमलों में 62 सैनिक मारे गए हैं.

अमरीका का कहना था कि जब उन्हें सीरिया के सैनिकों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिली तो उन्होंने हवाई हमलों को रोक दिया था.

अमरीका और रूस में बनी सहमति के बाद सीरिया में संघर्ष-विराम इस सोमवार से लागू हो गया है.

इस हवाई हमले के बाद शनिवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में रूस और अमरीका के बीच तल्ख़ी दिखाई दी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)