इसराइल के पूर्व राष्ट्रपति शिमोन पेरेज़ का निधन

  • 28 सितंबर 2016
इमेज कॉपीरइट AFP

इसराइल के वरिष्ठ राजनीतिक नेता और देश के पूर्व राष्ट्रपति शिमोन पेरेज़ का निधन हो गया है.

वो 93 साल के थे और दो हफ़्ते पहले स्ट्रोक होने के बाद से अस्पताल में भर्ती थे.

शिमोन पेरेज़ को राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के कार्यकाल के दौरान, इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच हुई ऑस्लो संधि में अहम भूमिका निभाने के लिए याद किया जाता है.

इस संधि के बाद उन्हें 1994 में संयुक्त तौर पर नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

वो ऐसा इसराइली राजनीतिक नेता थे जो 1948 में इसराइल बनने के वक़्त भी सक्रिय थे और फिर दो बार देश के प्रधानमंत्री और एक बार राष्ट्रपति बने.

शुरुआत में उन्हें कट्टर विचारों के लिए जाना जाता था लेकिन बाद में उनके नज़रिये में बदलाव आ गया था.

उन्होंने इसराइल के लिए फ्रांस से परमाणु तकनीक हासिल करने में बहुत अहम भूमिका निभाई थी.

वो पोलैंड में पैदा हुए थे और उनका परिवार 1934 में फ़लस्तीन जाकर बस गए थे.

उनके बेटे चेमी ने कहा है कि उन्होंने पिता ने तब भी उनकी सेवा की जब इसराइल ने एक मुल्क के तौर पर जन्म भी नहीं लिया था.

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि शिमोन पेरेज़ ने इतिहास की दिशा बदल दी.

पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने कहा है कि हिलेरी और उन्होंने एक दोस्त खो दिया है और मध्य-पूर्व ने शांति और सुलह का दूत.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए