तस्वीरों मेंः शिमोन पेरेज की शख्सियत

शिमोन पेरेज़

इसराइल के पूर्व राष्ट्रपति शिमोन पेरेज़ इसराइल की स्थापना के बाद महत्वपूर्ण राजनेता के रूप में उभरे थे.

बुधवार की सुबह उनका 93 साल की आयु में निधन हो गया.

1994 में शिमोन पेरेज़ को नोबल शांति पुरस्कार दिया गया. यह पुरस्कार उन्हें यित्ज़ाक राबिन और यासिर अराफ़ात के साथ संयुक्त रूप से मिला था.

इमेज कैप्शन,

शिमोन पेरेज को श्रद्धांजलि देते हुए इसराइली प्रधानमंत्री बेन्यामिन नेतन्याहू

दो अगस्त 1923 को पोलैंड में पैदा हुए शिमोन पेरेज़ के पिता लकड़ी के कारोबारी थे.

इमेज कैप्शन,

मिस्र के राष्ट्रपति होस्नी मुबारक, अमरीकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और रूस के राष्ट्रपति बोरिस येल्तसिन के साथ

वो युवा अवस्था में ही राजनीतिक गतिविधियों में शामिल हो गए थे. उन्हें 18 साल की उम्र में यहूदी मज़दूर आंदोलन का सचिव चुना गया था.

इमेज कैप्शन,

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर के साथ

पेरेज़ इसराइल के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति रहने के अलावा सार्वजनिक जीवन में अनेक अहम पदों पर रहे.

इमेज कैप्शन,

पोप फ्रांसिस के साथ शिमोन पेरेज

इसराइल की 1947 में स्थापना के बाद देश के पहले प्रधानमंत्री डेविड बेन ग्यूरियन बने.

डेविड बेन ग्यूरियन ने पेरेज़ को इसराइल की सेना के लिए होने वाली गोला-बारूद-हथियार की ख़रीद का ज़िम्मा सौंपा था.

इमेज कैप्शन,

ब्रिटेन की महारानी एलिज़ाबेथ और शिमोन

देश के आधुनिक मज़दूर आंदोलन की अगुआ मापाई पार्टी में पेरेज़ की भूमिका को देखते हुए उन्हें रक्षा उपमंत्री बनाया गया.

इमेज कैप्शन,

1993 में व्हाइट हाउस में बिल क्लिंटन, यासर अराफात के साथ शिमोन. तब वे इसराइल के विदेश मंत्री थे.

जून 2007 में पेरेज़ को इसराइल का राष्ट्रपति चुना गया.

इमेज कैप्शन,

ये तस्वीर 21 जून, 1977 की है. यरूशलम में लेबर पार्टी की आम चुनाव में जीतने के बाद यित्जाक राबिन के साथ जश्न मनाते हुए शिमोन.

वो इसराइल के इतिहास में सबसे अधिक समय तक संसद सदस्य रहने वाले व्यक्ति थे.

इमेज कैप्शन,

दलाई लामा और शिमोन पेरेज

पेरेज़ वेस्ट बैंक में इसाराइली कॉलोनियां बसाने के समर्थक थे. लेकिन बाद में वो राजनीतिक तौर पर शांति और समझौते के पक्षधर बन गए.

अक्सर वो फ़लस्तीनी इलाक़े में क्षेत्रीय मांगों पर समझौते की ज़रूरत पर ज़ोर देते थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)