ट्रंप ने की पूर्व मिस यूनिवर्स की खिंचाई

पूर्व मिस यूनिवर्स अलीशा मचादो
इमेज कैप्शन,

पूर्व मिस यूनिवर्स अलीशा मचादो

डोनल्ड ट्रंप ने कथित सेक्सिस्ट और नारी विरोधी टिप्पणियों के लिए अपनी आलोचना करने वाली पूर्व मिस यूनीवर्स अलीशा मचादो को 'घिनौना' कहा है.

रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार ट्रंप ने 1996 में मिस यूनीवस रहीं अलीशा मचादो को लेकर कई ट्वीट किए.

उन्होंने अमरीकी लोगों से अलीशा मचादो की निजी ज़िंदगी और 'सेक्स टेप' की खोजबीन करने तक के लिए कह दिया.

अपनी डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वि हिलेरी क्लिंटन पर निशाना साधते हुए ट्रंप ने कहा कि उन्होंने वेनेज़ुएला में पैदा हुई मचादो के लिए अमरीकी नागरिकता सुरक्षित की थी.

ट्रंप ने ट्वीट किया, ''क्या कुटिल हिलेरी ने घिनौनी अलीशा को अमरीकी नागरिकता दिलाने में मदद की थी, जिससे वो उन्हें बहस में इस्तेमाल कर सकें.''

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए हिलेरी क्लिंटन ने ट्वीट किया. ''ये पागलपन है, ट्रंप के लिए भी.''

अलीशा मचादो ने कहा था कि ट्रंप ने उनका वज़न बढ़ जाने के बाद उन्हें 'मिस पिगी' कहकर बुलाया था.

1996 में मिस यूनिवर्स की सौन्दर्य प्रतियोगिता ट्रंप ने आयोजित की थी.

अलीशा ने ये भी कहा था कि ट्रंप ने उनकी लातिनी विरासत की वजह से उन्हें 'मिस हाउसकीपिंग' भी कहा था.

उनके मामले को हिलेरी क्लिंटन ने पिछले दिनों अपने पहले राष्ट्रपति भाषण में उठाया था और बताया था कि महिलाओं के लिए ट्रंप का व्यवहार कैसा है.

इंस्टाग्राम पर पोस्ट किए अपने बयान में मचादो ने कहा है, "रिपब्लिकन उम्मीदवार और उनकी टीम मुझ पर हमला कर रही है और मेरे जीवन के बारे में ग़लत आरोप लगा रही है. इसका मक़सद मुझे डराना, अपमानित करना और अव्यवस्थित करना है. ये हमले बदनामी करने के लिए दुर्भावना से किए जा रह हैं और निराधार झूठ हैं."