'आईएस हमलावर' ने की हालैंड पत्रकार की हत्या

ब्रितानी फ़ोटोग्राफर जॉन कैंटली के साथ यरून अरलेमन्स
इमेज कैप्शन,

2012 में ब्रितानी फ़ोटोग्राफर जॉन कैंटली के साथ यरून अरलेमन्स (बाएं) का अपहरण हुआ था.

लीबिया के सिरते शहर में रिपोर्टिंग कर रहे नीदरलैंड के फ़ोटो पत्रकार की हत्या कर दी गई है.

बताया जा रहा है कि यरून अरलेमन्स की हत्या चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट यानी आईएस से संबंध रखने वाले एक स्नाइपर ने की है.

यरून सिरते में रिपोर्टिंग कर रहे थे. सिरते को हाल ही में आईएस के क़ब्जे से छुड़ाया गया था.

आईएस ने पिछले साल सिरते पर कब्ज़ा कर लिया था.

बताया जा रहा है कि 45 साल के यरून को गोली तब मारी गई जब वे अपने दल के साथ इलाके में खबरें जुटाने निकले थे.

इससे पहले 2012 में ब्रितानी फ़ोटोग्राफर जॉन कैंटली के साथ यरून का अपहरण हुआ था. लेकिन उन्हें एक हफ्ते बाद छोड़ दिया गया था.

यूरोप प्रवासी संकट से जूझने वाले लोगों की यात्रा के बारे में लिखने वाले अरलेमन्स अफ़गानिस्तान, सीरिया और लीबिया में भी युद्ध रिपोर्टिंग करते रहे हैं.

वे लीबिया में बेल्जियम की साप्ताहिक नैक पत्रिका सहित कई पत्र-पत्रिकाओं के लिए लिख रहे थे.

नैक पत्रिका ने ही उनकी मौत की पुष्टि की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)