कोलंबिया: फ़ार्क से बातचीत जारी रहेगी

कोलंबिया

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

समझौते के खिलाफ़ वोट डालने वालों का मानना है कि अपराध कबूल करने वाले विद्रोहियों को जेल की सज़ा दी जानी चाहिए.

कोलंबिया के राष्ट्रपति ख़्वान मानवेल सांतोस ने जनमत संग्रह में फार्क विद्रोहियों के साथ समझौते के खिलाफ़ 50.2 फ़ीसदी वोट पड़ने के बावजूद शांति प्रक्रिया जारी रखने का फ़ैसला किया है.

टिमोचेन्को के नाम से मशहूर फ़ार्क नेता ने कहा कि सरकार के साथ हुए समझौते पर दोबारा विचार कर इसमें सुधार किए जाएंगे क्योंकि समझौते के खिलाफ़ वोट करने वाले कई लोगों का कहना है कि ये काफ़ी नरम था. उन्होंने कहा है कि कोलंबियाई सरकार के साथ द्विपक्षीय युद्धविराम का पालन करेंगे.

विद्रोही नेताओं और सरकारी प्रतिनिधियों के बीच क्यूबा में सोमवार को बातचीत होनी थी.

इमेज स्रोत, AFP

इमेज कैप्शन,

कोलंबिया में रविवार को समझौते के खिलाफ़ बहुत कम अंतर से वोट पड़े.

करीब चार साल की बातचीत के बाद सरकार और फार्क विद्रोहियों के बीच समझौते पर पिछले हफ़्ते हस्ताक्षर हुए थे.

राष्ट्रपति सांतोस ने पहले कहा था कि संघर्ष को ख़त्म करने के लिए कोई प्लान बी नहीं है. लगभग 50 साल से चल रहे संघर्ष में करीब 2 लाख 60 हज़ार लोगों की मौत हो चुकी है.

जनमत संग्रह में काफ़ी कम अंतर से समझौते के खिलाफ़ वोट पड़े. इसके बाद राष्ट्रपति ख़्वान मानवेल सांतोस ने कहा,'' मैं हार नहीं मानूंगा. मैं अपने कार्यकाल के आख़िरी पल तक शांति की कोशिश करता रहूंगा .''

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

कोलंबिया का सबसे बड़ा विद्रोही समूह है फार्क

फ़ार्क विद्रोहियों से बातचीत में शामिल मुख्य सरकारी प्रतिनिधि हुंबर्तो दे ला कैले ने सोमवार को जनमत संग्रह के नतीजे आने के बाद इस्तीफ़े की पेशकश की और कहा कि वो समझौते में हुई ग़लतियों की ज़िम्मेदारी लेते हैं.

हालांकि उन्हें क्यूबा की राजधानी हवाना में विद्रोही नेताओं के साथ समझौते में सुधार के लिए फिर से बातचीत शुरू करने का आदेश दिया गया है.

जनमत संग्रह में 'नहीं' के पक्ष में अभियान चला रहे पूर्व राष्ट्रपति एलवारो उरीबे अपराधों के लिए दोषी विद्रोही नेताओं के लिए जेल की सज़ा और राजनीति में उन पर प्रतिबंध की मांग कर रहे हैं.

कोलंबिया में मुख्य विपक्षी पार्टी के नेता भी शांति प्रक्रिया को बचाने के लिए रास्ता निकालने पर चर्चा के लिए बैठक कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)