कुर्द शादी में आत्मघाती बम धमाके में 30 की मौत

More than 90 people were wounded in the bomb attack, many of them seriously

इमेज स्रोत, AFP

इमेज कैप्शन,

बम धमाके में 90 से ज़्यादा लोग घायल, कई की हालत गंभीर

उत्तर पूर्वी सीरिया में एक शादी समारोह में हुए आत्मघाती बम हमले में क़रीब 30 लोगों की मौत हो गई है.

हेसकाह शहर के बाहर तल ताविल में एक हॉल में जब निकाह की रस्म चल रही थी, तभी एक हमलावर ने खुद को उड़ा दिया.

इस बारे में विरोधाभासी ख़बरें हैं कि मृतकों में दूल्हा भी शामिल है.

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट का कहना है कि उनके एक चरमपंथी ने कुर्द लड़ाकों की "बड़ी भीड़" पर मशीनगन से गोलियां चलाईं और इसके बाद धमाका किया.

कुर्द समर्थक सेनाओं ने हेसकाह प्रांत के ज़्यादातर हिस्सों से जेहादी समूह को बाहर कर दिया है, लेकिन वो घातक बम हमलों को रोकने में असमर्थ रहे हैं.

सोमवार को शादी समारोह में मौजूद एक व्यक्ति ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को कहा कि दूल्हा और दुल्हन निकाह पढ़ रहे थे तभी भारी काला जैकेट पहने एक व्यक्ति उनके सामने से गुज़रा.

उन्होंने कहा, "मुझे वो अजीब दिख रहा था और इसके चंद सेकेंड बाद एक बड़ा धमाका हुआ. लोग ज़मीन पर गिरे थे और मैंने देखा कि कई शरीर के टुकड़े हो गए थे."

इमेज स्रोत, AFP

इमेज कैप्शन,

दूल्हा दुल्हन के निकाह के दौरान हमलावार ने खुद को उड़ा दिया

सीरिया की आधिकारिक न्यूज़ एजेंसी सना के मुताबिक़ 30 लोगों की मौत हुई है और 90 लोग घायल हो गए.

लेकिन ब्रिटेन स्थित सीरिया में मानवाधिकारों पर नज़र रखने वाली संस्था ने कहा कि इस हमले में 31 लोग मारे गए हैं जिसमें दुल्हा ज़रादेस्त मुस्तफ़ा फ़ातिमी भी शामिल हैं.

हालांकि एक रिश्तेदार ने इस ख़बर के ख़ारिज कर दिया और कहा कि दूल्हे को सिर्फ़ मामूली चोटें आईं हैं लेकिन दूल्हे के पिता और भाई दोनों की इस हमले में मौत हो गई.

रिश्तेदार ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया, "दूल्हा और उनकी पत्नी एक संबंधी के घर पर हैं और वे किसी से मिलना नहीं चाहते. वे इस हमले से वास्तव में सिहर गए हैं."

फ़ातिमी कथित तौर पर एक प्रमुख परिवार के सदस्य हैं जो उत्तरी सीरिया में स्वायत्त प्रशासन चलाने वाले कुर्द धड़ों में शामिल है.

मानवाधिकारों पर नज़र रखनेवाली संस्था का कहना है कि फ़ातिमी सीरियाई लोकतांत्रिक सेना के भी सदस्य थे. ये सेना कुर्द और अरब लड़ाकों का गठबंधन है जो अमरीकी गठबंधन सेनाओं की मदद से आईएस से लड़ाई लड़ रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)