ईमेल मामले में हिलेरी को जेल में होना चाहिए- ट्रंप

  • 10 अक्तूबर 2016
इमेज कॉपीरइट AP
Image caption रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप और डेमोक्रैट उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन

अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले दूसरी टेलीविजन बहस में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप ने महिलाओं के बारे में अश्लील टिप्पणी वाले वीडियो के मामले में माफ़ी मांगी है.

साल 2005 के इस वीडियो में ट्रंप महिलाओं के बारे में आपत्तिजनक बातें करते सुनाई पड़ रहे हैं.

सेंट लुइस की वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी में हुई बहस की शुरुआत में डेमोक्रैट उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने डोनल्ड ट्रंप पर महिलाओं के बारे में टिप्पणी को लेकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि डोनल्ड ट्रंप ने महिलाओं के बारे में जो टिप्पणी की है उसके बाद वो राष्ट्रपति बनने लायक नहीं हैं.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वो अपने उन शब्दों के लिए माफ़ी मांगते हैं. उन्होंने कहा कि, ''मुझे अपने बयान को लेकर कोई गर्व नहीं है और इसको लेकर शर्मींदगी महसूस कर रहा हूं. लेकिन वह एक बंद कमरे में हुई बातचीत थी.''

उन्होंने कहा कि उनके मन में महिलाओं को लेकर बहुत सम्मान हैं. ट्रंप ने डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के पति और अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन को और भी बुरा व्यक्ति बताया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption डोनल्ड ट्रंप और हिलेरी क्लिंटन.

क्लिंटन ने कहा कि ट्रंप ने अपने भाषणों में गोल्ड स्टार कैटन ख़ान के परिवार पर की गई टिप्पणी, एक पत्रकार का मजाक उड़ाने और राष्ट्रपति बराक ओबामा के अमरीका में पैदा न होने पर की गई टिप्पणियों की भी चर्चा की.

रिपब्लिकन उम्मीदवार ट्रंप ने हिलेरी क्लिंटन के विदेश मंत्री के कार्यकाल में हुए ईमेल का मुद्दा भी उठाया और कहा कि आपको इसको लेकर शर्म आनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री रहते हुए निजी ईमेल सर्वर चलाने के लिए हिलेरी को जेल में होना चाहिए.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सेंट लुइस में आयोजित प्रेसिडेंशियल डिबेट का संचालन करते सीएनएन के एंडरसन और एबीसी न्यूज़ की मार्था राडाट्ज़.

इस पर हिलेरी ने ईमेल को मिटाने को लेकर अपनी भूल स्वीकार की. उन्होंने कहा कि वो इसकी जिम्मेदारी लेती हैं. उन्होंने कहा कि इससे कोई भी क्लासीफाइड फाइल सार्वजनिक नहीं हुई और कोई भी जानकारी ग़लत हाथों में नहीं गई.

डोनल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति बराक ओबामा की योजनाओं को डिज़ास्टर बताया और कहा कि अगर वो राष्ट्रपति बने तो उन्हें बंद कर देंगे.

हिलेरी क्लिंटन ने आरोप लगाया कि रूस चुनाव परिणामों को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है.

उन्होंने कहा कि रूस इस बात की कोशिश कर रहा है कि ट्रंप चुनाव जीत जाएं. उन्होंने कहा,'' हमने अपने देश के इतिहास में ऐसा होता नहीं देखा."

इस पर ट्रंप ने कहा कि वो पुतिन को नहीं जानते हैं. उन्होंने कहा कि वो अपने चुनाव अभियान के लिए पुतिन सरकार के साथ मिलकर काम नहीं कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सेंट लुइस के वॉशिंगटन विश्वविद्यालय में आयोजित डोनल्ड ट्रंप और हिलेरी क्लिंटन की बहस को देखते-सुनते लोग.

उन्होंने कहा कि यह अच्छा होगा कि अमरीका तथाकथित इस्लामिक स्टेट (आईएस) को हराने के लिए रूस के साथ मिलकर काम करे.

ट्रंप ने लीबिया, सीरिया और इराक़ में हस्तक्षेप को लेकर क्लिंटन के फैसले की आलोचना की.

उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ''अब वो 32 अलग-अलग देश हैं. आपने अच्छा काम किया, इसके लिए धन्यवाद.''

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए