अमरीकियों की ज़िंदगी और राजनीति का हाल

अमरीकी चुनाव

अमरीकी चुनाव के दौरान टीवी पर हो रही बयानबाज़ी सुनकर आपको अगर ये लगा हो कि इस बार के अहम मुद्दे या तो डॉनल्ड ट्रंप पर महिलाओं के लगाए आरोप या फिर हिलेरी क्लिंटन की ईमेल की परेशानियां हैं, तो इसमें आपकी कोई ग़लती नहीं है.

इस बार ज़्यादातर सुर्खियां इन बातों से ही बनी हैं.

आप्रवासन, अर्थव्यवस्था, नस्लवाद, आतंकवाद जैसे मु्द्दे तो जैसे कहीं खो ही गए.

कभी ये मुद्दे अमरीका-मैक्सिको के बीच दीवार बनाने की चर्चा, तो कभी मुसलमानों को अमरीका न आने देने की बहस और कभी चीन से नौकरियां वापस लाने की नोकझोंक में दबकर रह गए.

लेकिन जब बीबीसी संवाददाता ब्रजेश उपाध्याय अमरीका के कई प्रांतों में घूमे और आम अमरीकियों से बात की, तो असल में अंदाज़ा हुआ कि उनके लिए ये मुद्दे कितनी अहमियत रखते हैं.

एक और ख़ास बात ये नज़र आई कि हर मुद्दा कहीं न कहीं अर्थव्यवस्था से भी जुड़ा हुआ है.

ऐसे में ब्रजेश उपाध्याय ने इन मुद्दों की पड़ताल करने की कोशिश की है. इस हफ़्ते वो हर रोज़ अमरीकी चुनाव के मुद्दों की पड़ताल करते नज़र आएंगे.

पांच कड़ियों की बीबीसी हिंदी की इस ख़ास सीरीज़ आपको अमरीकी जि़ंदगी और राजनीति दोनों से रूबरू करवाएगी.

आज सिरीज़ की पहली कड़ी में बात इमिग्रेशन की होगी, कुछ ही देर में.

जानिए अमरीकी चुनाव में इस बार इमिग्रेशन क्यों एक बड़ा मुद्दा बना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)