बांग्लादेश: कोर्ट ने गेंदबाज़ शहादत हुसैन को निर्दोष पाया

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बांग्लादेश की एक अदालत ने क्रिकेट खिलाड़ी शहादत हुसैन को नाबालिग़ नौकरानी को यातनाएँ देने के मामले में निर्दोष पाया है.

इस मामले में ढाका की एक अदालत ने तेज़ गेंदबाज़ शहादत हुसैन और उनकी पत्नी, जैसमिन जहान को निर्दोष बताया है.

उन पर 11 साल की नौकरानी, महफ़ूज़ा अख़्तर हैपी को प्रताड़ित के आरोप थे. हुसैन को दो महीने न्यायिक हिरासत में बितानी पड़े थे जब लड़की को घायल हालत में पाया गया था. उसकी एक टांग टूटी हुई थी.

कोर्ट ने कहा कि अभियोजन पक्ष आरोप साबित नहीं कर पाया है. शहादत हुसैन और उनकी पत्नी ने आरोप स्वीकार करने से इंकार किया था.

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें निलंबित कर दिया था. बोर्ड ने आरोप लगाया था कि उन्होंने बोर्ड की छवि को खराब किया है. बाद में उन्हें घरेलू क्रिकेट खेलने की इजाज़त दे दी गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे