ट्रंप के विरोध में प्रदर्शनों का सिलसिला जारी

प्रदर्शन
इमेज कैप्शन,

ट्रंप के विरोध में ओरेगन के साथ साथ पोर्टलैंड में भी हिंसक प्रदर्शन हुए हैं.

राष्ट्रपति चुनावों में जीत हासिल करने वाले डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ अमरीका के अलग-अलग शहरों में दूसरे दिन भी विरोध प्रदर्शन जारी है.

ओरेगन के साथ साथ पोर्टलैंड में भी हिंसक प्रदर्शन हुए है.

इमेज कैप्शन,

पोर्टलैंड में सड़कों पर हज़ारों प्रदर्शनकारियों ने दुकानों और वाहनों के शीशे तोड़ डाले.

पोर्टलैंड में सड़कों पर हज़ारों प्रदर्शनकारियों ने दुकानों और वाहनों के शीशे तोड़ डाले, लेकिन विभिन्न शहरों में होने वाले प्रदर्शनों में पिछले दिन की तुलना में प्रदर्शनकारियों की संख्या कम रही है.

ज़्यादातर प्रदर्शनकारियों युवा थे और उनका कहना था कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने से जातीय और लिंग भेद बढ़ जाएगा.

दूसरी ओर डोनाल्ड ट्रंप ने प्रदर्शनकारियों को 'पेशेवर प्रदर्शनकारी' करार दिया और कहा कि मीडिया ने उन्हें भड़काया है.

डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया कि प्रदर्शन 'बहुत अनुचित' हैं.

बाद में ट्रंप ने ट्वीट किया कि उन्हें ये देखकर अच्छा लगा कि प्रदर्शनकारियों में इस महान देश के लिए जज़्बा है. हम सभी एक साथ आगे बढ़ेंगे और गर्व करेंगे.

डोनाल्ड ट्रंप के विरोध में गुरुवार शाम फिलाडेल्फिया, बाल्टीमोर और साल्ट लेक सिटी समेत अन्य शहरों में प्रदर्शन हुए.

फिलाडेल्फिया में प्रदर्शनकारियों सिटी हॉल के पास एकत्रित हुए और उन्होंने बैनर और प्ले कार्ड उठा रखे थे जिन पर 'हमारा राष्ट्रपति नहीं', 'अमरीका को सभी के लिए सुरक्षित बनाओ' जैसे नारे लिख थे.

बाल्टीमोर में पुलिस का कहना है कि 600 लोगों ने शांतिपूर्ण तरीके से शहर में रैली निकाली.

शिकागो में ट्रंप टॉवर के बाहर भी कम संख्या में लोग जमा हुए जबकि पिछले दिन हजारों लोगों ने शहर में मार्च किया था. न्यूयॉर्क में भी लगातार दूसरी रात ट्रंप टॉवर के सामने प्रदर्शन किया गया.

ट्रंप न्यूयॉर्क में हैं और माना जा रहा है कि वह अपने मंत्रिमंडल के बारे में विचार विमर्श कर रहे हैं.