इराक़ ने 'इस्लामिक स्टेट से निमरुद छीना'

  • 13 नवंबर 2016
इमेज कॉपीरइट AFP

इराक़ी सैन्य बलों का कहना है कि उन्होंने प्राचीन शहर निमरुद को चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के क़ब्ज़े से छुड़ा लिया है.

निमरुद पर दो साल पहले चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने क़ब्ज़ा कर लिया था.

मार्च 2015 में इस शहर के विध्वंस की तस्वीरें सामने आईं थीं. इतिहासविदों और पुरातत्वविदों ने इस प्राचीन शहर की धरोहरों को नष्ट करने पर चिंता ज़ाहिर की थी.

इस शहर की कई प्राचीन धरोहर क़रीब तेरह सौ ईसा पूर्व की हैं.

संयुक्त राष्ट्र की संस्कृति संस्था ने धरोहरों को नष्ट करने को युद्ध अपराध कहा था.

निमरुद, मूसल शहर से क़रीब तीस किलोमीटर दूर है.

इराक़ी सैन्य बल मूसल को इस्लामिक स्टेट के क़ब्ज़े से छुड़ाने का प्रयास कर रहे हैं.

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सेना की नौवीं टुकड़ी ने निमरुद पर पूरी तरह नियंत्रण कर लिया है और शहर की प्राचीन धरोहरों पर इराक़ का झंडा फ़हरा दिया है.

बयान में ये भी कहा गया है कि कथित इस्लामिक स्टेट को जान-माल का काफ़ी नुक़सान हुआ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए