28 साल जेल में रहने के बाद निर्दोष साबित

  • 15 नवंबर 2016
इमेज कॉपीरइट Thinkstock

अमरीका के शहर कोलरैडो में एक अदालत ने रेप के आरोप में 28 साल से सजा काट रहे एक व्यक्ति को रिहा कर दिया है.

दरअसल रेप पीड़िता ने बयान दिया कि उसने रेप करने वाले को सपने में देखा था. इसके बाद जज ने क्लेरेंस मोजेज-एल को आरोप से मुक्त करने का फैसला दिया.

डेनवर की अदालत ने जैसे ही सोमवार की दोपहर को 'नॉट गिल्टी' का फैसला दिया, क्लेरेंस का मन किया कि वे अदालत में ही खुशी से चीख पड़ें.

28 सालों तक वे अपने ऊपर लगे रेप के आरोप से इंकार करते रहे हैं.

1987 में उन पर अपने पड़ोसी महिला को पीटने और रेप करने के आरोप लगे थे.

क्लेरेंस मोजेज-एल शुरू से यही कहते रहे कि वे निर्देोष हैं, उनकी पहचान गलत तरीके से की गई है.

लेकिन उनकी अपील तब तक नहीं सुनी गई जब तक कि उनके साथी कैदी ने एक चिट्ठी लिखी जिसमें बताया कि ये हमला उन्होंने किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए