एलेप्पो में बच्चों के अस्पताल पर गिरे बम

एलेप्पो में हमले के बाद की तस्वीर
इमेज कैप्शन,

द इंडिपेंडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के मुताबिक बच्चों के अस्पताल को बुरी तरह नुकसान हुआ है.

सीरिया में सरकार विद्रोहियों के अधिकार वाले पूर्वी एलेप्पो में सरकारी विमानों से हुए हमले में एक अस्पताल, ब्लड बैंक और एंबुलेंस को निशाना बनाए जाने की ख़बर है.

इन हमलों में पांच बच्चों समेत कम से कम 21 लोगों की मौत की ख़बर है. जबकि पिछले दो दिनो में 32 लोग मारे जा चुके हैं.

बायान चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल के निदेशक का कहना है कि वो बाहर नहीं निकल पा रहे हैं और बचने के लिए तहख़ाने में छिपे हैं.

ब्रिटेन स्थित सीरियन ऑब्ज़रवेट्री फ़ॉर ह्यूमन राइट्स का कहना है कि कम से कम 21 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें पांच बच्चे हैं.

सीरिया में कई संस्थानों की मदद करने वाली द इंडिपेंडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के मुताबिक़ बायान चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुआ है.

इसने अस्पताल के निदेशक डा. हातिम के हवाले से बताया है कि वो तहख़ाने में फंसे हुए हैं.

उन्होंने कहा, "हमारे ऊपर विमान हैं. हम बाहर नहीं जा सकते हैं. शायद हम ख़ुद को इस कमरे में भी सुरक्षित नहीं रख सकते हैं."

सीरिया सिविल डिफेंस के बचावकर्मियों का कहना है कि करम अल-बीक में एक चिकित्साकर्मी की मौत हो गई.

सीरिया की सरकार के सहयोगी देश रूस के एलान के बाद तीन हफ्ते तक चले संघर्ष विराम के बाद मंगलवार से यहां हवाई हमले दोबारा शुरू हुए हैं.

रूस ने पश्चिमी सीरिया में जिहादी चरमपंथियों के ख़िलाफ़ बड़ा अभियान शुरू करने का भी एलान किया. इसमें एयरक्रॉफ्ट करियर को भी पहली बार इस्तेमाल किया गया.

किसी वक़्त एलेप्पो सीरिया का वाणिज्यिक और औद्योगिक केंद्र था. साल 2012 में एलेप्पो मोटे तौर पर दो हिस्सों में बंट गया. इनमें से पश्चिमी हिस्से में सीरिया की सरकार का अधिकार है जबकि पूर्वी हिस्से पर विद्रोहियों का नियंत्रण है.

बीते साल सीरिया की सेना ने ईरान के समर्थन वाले लड़ाकों और रूस के हवाई हमलों की मदद से अवरोध की स्थिति को ख़त्म किया.

बीती 22 सितंबर को सरकारी सेना ने शहर को पूरी तरह से नियंत्रण में लेने के लिए आक्रामक अभियान की शुरुआत की. इसके पहले दो हफ़्तों तक सरकारी सेना ने पूर्वी एलेप्पो की घेरेबंदी की जिसमें यहां रहने वाले क़रीब 2 लाख 75 हज़ार लोग फंस गए.

सीरिया की सरकारी सेना और रूस ने 18 अक्तूबर को हवाई हमले बंद कर दिए जिससे आम लोग और विद्रोही शहर से बाहर जा सकें लेकिन इस दौरान बहुत ही कम लोग बाहर आए.

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक़ महीने के आख़िर तक पूर्वी एलेप्पो में हुए हवाई हमलों और बमबारी में 700 से ज़्यादा लोगों की मौत हुई जबकि पश्चिमी एलेप्पो पर हुए रॉकेट हमले में भी कई लोगों की जान गई.

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि मंगलवार से सरकारी सेना ने दोबारा हवाई हमले शुरू किए जिनमें कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई. इसबीच सरकारी मीडिया ने ख़बर दी कि ज़मीनी कार्रवाई के लिए कई मोर्चों पर बड़ी संख्या में सैनिकों को तैनात किया गया है.

निगरानी समूह सीरियन ऑब्जरवेट्री का कहना है कि बुधवार को कई इलाक़ों में विमानों से मिसाइलें दाग़ी गईं और हेलिकॉप्टर से बम गिराए गए.

द सीरियन ऑब्जरवेट्री का कहना है कि बाटबो गांव में कम से कम 19 लोगों की मौत हुई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)