जापान: फ़ुकुशिमा से टकराईं सूनामी की लहरें

फ़ुकुशिमा पावर प्लांट

इमेज स्रोत, Reuters

जापान के उत्तर-पूर्वी तट पर भूकंप का ज़ोरदार झटका महसूस होने के बाद फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र के इलाक़े से सूनामी की एक मीटर ऊंची लहरें टकराई हैं.

साल 2011 में आई सूनामी के कारण ये परमाणु संयंत्र पूरी तरह से तबाह हो गया था. हालांकि, फ़िलहाल इस तरह का कोई नुकसान होने की ख़बर नहीं है, लेकिन सूनामी से जुड़ी चेतावनी जारी है.

रिक्टर स्केल पर 6.9 की तीव्रता वाले भूकंप का केंद्र फुकुशिमा से 70 किलोमीटर दूर ज़मीन से 11 किलोमीटर नीचे स्थित था.

इमेज स्रोत, Reuters

इमेज कैप्शन,

2011 में भूकंप के बाद उठी सुनामी लहरों से फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र में भारी नुकसान किया था.

भूकंप के बाद जापान में कैबिनेट के मुख्य सचिव योशिहिदे सुगा ने कहा था कि फुकुशिमा परमाणु संयंत्र के तीसरे रिएक्टर के कुलिंग सिस्टम ने काम करना बंद कर दिया है.

हालांकि अभी तक तापमान बढ़ने के संकेत नहीं हैं, ना ही दूसरे परमाणु संयंत्र में कोई अनियमितता दिखी है.

इमेज स्रोत, Reuters

इमेज कैप्शन,

फ़ाइल फ़ोटो

उन्होंने कहा कि सरकार ने स्थिति का जायज़ा लेने के लिए टास्क फ़ोर्स का गठन किया है.

फ़िलहाल भूकंप से किसी नुकसान या जान-माल की क्षति की ख़बर नहीं है लेकिन भूकंप इतना शक्तिशाली था कि टोक्यो तक इसके झटके महसूस किए गए.

जापान मौसमविज्ञान एजेंसी ने कहा है कि भूकंप स्थानीय समय अनुसार मंगलवार स्थानीय समयानुसार सुबह 6 बजे आया.

जापान के कुमामोटो प्रांत में अप्रैल में आए भूकंप में 50 लोगों की मौत हो गई थी. 2011 में फ़ुकुशिमा में भूकंप के बाद विनाश में 18 हज़ार से ज़्यादा लोगों की या तो मौत हो गई थी या फिर वे लापता हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)