ब्रिटेन: 'चर्बी' वाले नोट पर शाकाहारी नाराज़

  • 30 नवंबर 2016
इमेज कॉपीरइट PA

ब्रिटेन में सितंबर में शुरू किए गए पांच पाउंड के नए नोट के कई लोग दीवाने हो गए हैं.

यह मज़बूत है. यह फटता नहीं है. आप इसे भिगो भी सकते हैं. वाशिंग मशीन में धुल जाए तो भी ये सुरक्षित बच जाएगा और आपके काम आ जाएगा.

लेकिन ये नोट चिकना है और ऐसा इसलिए है क्योंकि इसे बनाने के लिए जिस प्लास्टिक पॉलीमर ( कई अणुओं से मिलकर बनने वाला कार्बनिक यौगिक ) का इस्तेमाल हुआ है उसमें कुछ अंश चर्बी के हैं, जो कि जानवरों से मिलता है.

इस जानकारी से कुछ शाकाहारी खुश नहीं हैं.

पुराने ज़माने के लोग जानते हैं कि साबुन और मोमबत्ती बनाने में चर्बी का इस्तेमाल होता आया है.

पारंपरिक तौर पर ये चर्बी, गाय-भैंस , बकरा (कभी-कभी सूअर ) के मांस से कसाई घर या बाद में खाद्य उत्पादन प्रक्रिया में तैयार की जाती है.

इस जानकारी के सामने आने के बाद वीगन और शाकाहारियों ने सोशल मीडिया पर अपनी चिंता ज़ाहिर की है.

वीगन वो लोग हैं जो किसी भी तरह के पशु उत्पाद से परहेज़ करते हैं, जिसमें दूध, दही भी शामिल है.

सोशल मीडिया पर 40 हज़ार से भी ज़्यादा लोगों ने एक याचिका पर हस्ताक्षर कर इस नोट को बनाने की सामग्री बदलने की मांग की है.

याचिका में कहा गया है, "हम मांग करते हैं कि आप उस मुद्रा के उत्पादन में पशु उत्पाद का इस्तेमाल रोकें जिसे हमें इस्तेमाल करना होता है."

ट्विटर पर गुस्साए वेगन और शाकाहारियों का कहना है कि ये "ठीक नहीं" और "घिनौना" है. वो सवाल पूछ रहे हैं कि क्या उनके अधिकारों का ख़्याल रखा गया है.

इमेज कॉपीरइट @MIZZAGGIE

हालांकि कुछ लोगों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए चुटकी ली और सलाह दी है कि ब्रिटेन की मुद्रा में "सूअर के मांस के आचार की खुशबू" होनी चाहिए. वो अटकलें लगा रहे हैं कि पांच पाउंड के नए नोट में कितनी कैलोरी है और आहत शाकाहारियों को अपने अनचाहे नोटों से छुटकारा दिलाने की पेशकश की है.

कुछ ब्रितानी हिंदू नेताओं का कहना है कि वो मंदिरों में इस नोट को प्रतिबंधित किए जाने पर विचार करेंगे.

इमेज कॉपीरइट @DANNYFKNDEEZ

बैंक ऑफ इंग्लैंड ने एक बयान जारी कर कहा है, "हम इसकी पुष्टि कर सकते हैं कि जिस पॉलिमर से इसे तैयार किया जाता है उसमें चर्बी के कुछ अंश हैं."

लेकिन, बैंक ने अब तक नोट बनाने के किसी नए तरीके पर विचार नहीं किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)