ट्रंप का विरोध, 'नोबेल' लेखक शोयिंका ने काटा ग्रीनकार्ड

  • 2 दिसंबर 2016
Image caption नाइजीरियाई लेखक वोली शोयिंका को साल 1986 में साहित्य के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

नोबेल पुरस्कार विजेता नाइजीरियाई लेखक वोली शोयिंका ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्होंने अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे आने के बाद विरोध में अमरीका का अपना ग्रीन कार्ड काट दिया है.

अमरीकी राष्ट्रपति चुनने के लिए हुए मतदान से पहले उन्होंने कहा था कि अगर डोनल्ड ट्रंप जीते तो वो अमरीका छोड़ देंगे.

दक्षिण अफ्रीका में एक शैक्षिक कॉन्फ्रेंस में उन्होंने पत्रकारों से कहा वो अब अमरीका में सहज महसूस नहीं कर सकेंगे.

नाटककार, उपन्यासकार और कवि वोली शोयिंका को साल 1986 में साहित्य के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

उसके बाद से समय-समय पर वो अमरीकी विश्वविद्यालयों में पढ़ाते रहे थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption डोनल्ट ट्रंप अमरीका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति हैं जो बराक ओबामा के बाद अमरीका की कमान संभालेंगे

गौरतलब है कि पिछले महीने हुए अमरीका राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप को डेमोक्रैट उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन पर भारी जीत हासिल हुई थी.

चुनाव प्रचार के दौरान अरबपति उद्योगपति ट्रंप को लेकर अमरीकी समाज दो हिस्सों में बंट गया था.

ट्रंप ने चुनाव प्रचार के दौरान अप्रवासियों और मुसलमानों को लेकर कुछ ऐसे बयान दिए थे जिससे देश की एक बड़ी आबादी असहज महसूस कर रही थी.

वोल सोयिंका समेत कई बड़े लोगों ने ट्रंप की उम्मीदवारी के विरोध में बयान दिए थे.

और अब चुनाव में जीत के बाद वोली शोयिंका ने अमरीका में प्रवास के लिए ज़रूरी काग़ज़ात माने जानेवाले ग्रीन कार्ड को काट कर ट्रंप के चुनाव के खिलाफ़ अपना विरोध प्रकट किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे