परमाणु ऊर्जा से चलने वाले जहाज़ बनाएंगे: ईरान

जहाज़

ईरान के राष्ट्रपति हसन रोहानी ने अपने अधिकारियों को परमाणु ऊर्जा से चलने वाले जहाज़ बनाने के लिए कहा है.

राष्ट्रपति रोहानी का आरोप है कि अमरीका पिछले साल हुए अंतरराष्ट्रीय परमाणु समझौते का उल्लंघन कर रहा है.

अमरीका सहित विश्व की प्रमुख शक्तियां इस शर्त के साथ प्रतिबंध उठाने पर राज़ी हुई थीं कि ईरान अपना परमाणु कार्यक्रम बंद कर देगा.

लेकिन अमरीकी कांग्रेस ने हाल में मतदान के ज़रिए ईरान के ख़िलाफ़ प्रतिबंधों को आगे बढ़ाने का फैसला किया था.

उम्मीद है कि राष्ट्रपति ओबामा इस पर दस्तख़त कर देंगे लेकिन कहा जाता है कि इससे अंतरराष्ट्रीय समझौते पर असर नहीं पड़ेगा.

एक बयान में ईरान के राष्ट्रपति रोहानी ने अमरीकी कांग्रेस के इस कदम की भर्त्सना की है और इसे समझौते का उल्लंघन बताया है.

उन्होंने अपने अधिकारियों से कहा है कि वे नौवहन परिवहन के लिए ढांचे और परमाणु ईंधन की योजना बनाएं.

अमरीका के निर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप ने चुनाव प्रचार के दौरान कहा था कि वे ईरान के साथ हुए समझौते को ख़त्म कर देंगे, लेकिन अभी ये स्पष्ट नहीं है कि आगे उनकी नीति क्या होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)