तुर्की में रूसी राजदूत की गोली मार कर हत्या

आर्ट गैलेरी
इमेज कैप्शन,

बंदूकधारी ने आर्ट गैलेरी में एक प्रदर्शनी में भाषण देने उठे रूस के राजदूत पर गोली चलाई जिसके बाद वो गिर गए.

तुर्की के एक पुलिस अधिकारी ने तुर्की में रूस के राजदूत आंद्रे कार्लोफ़ की गोली मार कर हत्या कर दी है.

अंकारा में एक आर्ट गैलेरी में एक प्रदर्शनी में भाषण देने के लिए उठे आंद्रे कार्लोफ़ पर 22 साल के मेवलुत मेर्त एडिन्टास ने गोली चलाई.

मेवलुत मेर्त एडिन्टास अंकारा में दंगारोधी पुलिस के सदस्य थे, तुर्की में अधिकारियों ने इसकी पुष्टि कर दी है.

इमेज कैप्शन,

बंदूकधारी की पहचान तुर्की के एक पुलिस अधिकारी के तौर पर हुई है.

तुर्की की मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक हमलावर को मार गिराया गया है.

सीरिया में चल रहे युद्ध में रूस के सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद का समर्थन करने के विरोध में हाल ही में तुर्की में प्रदर्शन हुए हैं.

तुर्की के राष्ट्रपति रेचैप तैयप अर्दोआन ने कहा है कि ये हमला तुर्की और रूस के संबंधों को ख़राब करने के मक़सद से किया गया था.

राष्ट्रपति अर्दोआन ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से फ़ोन पर इस हमले के बारे में बात की.

उन्होंने कहा कि जो लोग रूस और तुर्की के संबंध को ख़राब करना चाहते हैं उनका मकसद पूरा नहीं होगा.

वहीं रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि ये हमला तुर्की और रूस के बीच सामान्य हो रहे द्वीपक्षीय रिश्ते और सीरिया की शांति प्रक्रिया में रुकावट पैदा करने के लिए किया गया था.

इमेज कैप्शन,

तुर्की में रूस के राजदूत एंड्रे कार्लोफ़

इससे पहले गोली लगने से आंद्रे कार्लोफ़ गंभीर रूप से घायल हो गए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

रूसी टीवी के मुताबिक तुर्की की राजधानी अंकारा में एक प्रदर्शनी में हिस्सा लेने के लिए आंद्रे कार्लोफ़ आर्ट गैलेरी आए थे जब उन्हें गोली मार दी गई.

रिपोर्टों के मुताबिक़ कार्लोफ़ भाषण दे रहे थे जब एक बंदूकधारी ने सीरिया के अलेप्पो शहर के बारे में नारे लगाते हुए गोलियां चलाना शुरू कर दिया.

बंदूकधारी नारे लगा रहा था , ''अलेप्पो को मत भूलो, सीरिया को मत भूलो.'' बंदूकधारी ने 'अल्लाहू-अकबर' के नारे भी लगाए.

रिपोर्टों के मुताबिक बंदूकधारी ने आर्ट गैलेरी में प्रवेश करने के लिए पुलिस पहचान-पत्र का इस्तेमाल किया था.

इस हमले में कई अन्य लोग घायल भी हुए हैं.

घटना के वीडियो फ़ुटेज के मुताबिक जब कार्लोफ़ भाषण दे रहे थे तब गोलियां चलना शुरू हो गईं.

इमेज कैप्शन,

आर्ट गैलेरी में गोलीबारी के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया.

रूस सीरिया में चल रहे युद्ध में राष्ट्रपति बशर अल असद की सरकार का समर्थन कर रहा है इसे लेकर तुर्की और रूस के बीच तनाव बना हुआ है.

सीरियाई सरकार का समर्थन करने के लिए रूस के ख़िलाफ़ इस्तांबुल में रूस के वाणिज्य दूतावास के बाहर प्रदर्शन भी हुए हैं.

लेकिन तुर्की और रूस की सरकारें अलेप्पो में युद्ध विराम पर मिलकर काम कर रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)