बर्लिन के क्रिसमस बाज़ार में दौड़ाई लॉरी, 12 की मौत

क्रिसमस बाज़ार

जर्मनी की राजधानी बर्लिन में एक व्यस्त क्रिसमस बाज़ार में एक लॉरी के दौड़ा देने से कम-से-कम 12 लोगों की मौत हो गई है और 50 लोग घायल हैं.

इमेज कैप्शन,

बाज़ार में लॉरी घुसने के बाद घटनास्थल की तस्वीर

जर्मनी के गृह मंत्री ने कहा है कि ऐसे संकेत मिले हैं जिससे लगता है कि ये जानबूझकर किया गया एक हमला है.

बर्लिन पुलिस ने कहा है कि वे पोलैंड में एक निर्माण स्थल से एक ट्रक के चोरी होने की ख़बरों की जाँच कर रहे हैं.

संदिग्ध

पुलिस ने बताया है कि लॉरी के ड्राइवर को गिरफ़्तार कर लिया गया है और उससे पूछताछ हो रही है.

जर्मनी के सुरक्षा सूत्रों का कहना है कि ये व्यक्ति अफ़ग़ानिस्तान या पाकिस्तान से फ़रवरी में जर्मनी आया था जिसने वहाँ शरण लेने के लिए आवेदन किया था. एक अज्ञात सवार मारा गया है.

इमेज कैप्शन,

लगभग 50 लोग घायल बताए जा रहे हैं

इस संदिग्ध हमले के बाद फ़्रांस के क्रिसमस बाज़ारों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. वहाँ नीस शहर में इस साल 14 जलाई को ऐसा ही एक ट्रक हमला हुआ था जिसमें 86 लोग मारे गए थे.

नीस हमले की ज़िम्मेदारी तथाकथित इस्लामिक स्टेट गुट ने ली थी.

घटना

जर्मन समाचार एजेंसी डीपीए के अनुसार पुलिस को लगता है कि लॉरी बाज़ार के भीतर करीब 50 से 80 मीटर तक दौड़ती रही. उस वक़्त वहाँ रात के सवा आठ बज रहे थे.

वीडियो फ़ुटेज से पता चलता है कि बाज़ार में लगे कई स्टॉल टूट गए हैं और लोग ज़मीन पर गिरे हुए हैं.

ये बाज़ार ब्राइशाइप्लात्ज़ में स्थित है और कायसर विलहेम मेमोरियल चर्च के नज़दीक है.

इमेज कैप्शन,

ये क्रिसमस बाज़ार पश्चिम बर्लिन के मध्य में स्थित है.

बर्लिनर मॉर्गनपोस्ट के एक रिपोर्टर ने बाज़ार के हालात के बारे कहा कि यहां का दृश्य डरावना है.

लॉरी की तस्वीरों से पता चलता है कि उसका रजिस्ट्रेशन पड़ोसी देश पोलैंड का है. पोलैंड की मीडिया में कहा जा रहा है कि शायद ये लॉरी सोमवार को चुराई गई हो.

ऐसा कहा जा रहा है कि इस ट्रक में मृत पाया गया व्यक्ति पोलैंड का नागरिक था जबकि जिस संदिग्ध को गिरफ़्तार किया गया है उसकी नागरिकता की पुष्टि की जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)