रूसी विमान क्रैश- शवों को खोजने का काम ज़ोरों पर

इमेज कॉपीरइट Reuters

रविवार को काला सागर में दुर्घटनाग्रस्त हुए रूसी सैन्य विमान में सवार लोगों के शव खोजने के लिए बड़े पैमाने पर अभियान अभी भी जारी है.

इस दुर्घटना में विमान पर सवार सभी 92 लोग मारे गए थे.

सीरिया के तटीय शहर सोची के पास समुद्र में मृतकों के शवों और विमान के मलबे की खोज का काम बड़े पैमाने जारी है जिसमें तीन हज़ार से अधिक लोग हिस्सा ले रहे हैं.

इनमें 109 गोताखोरों के साथ जहाज़, विमान और हैलीकॉप्टर भी शामिल हैं.

रक्षा मंत्रालय के अनुसार Tu-154 विमान में चालक दल के सदस्यों, सैन्य अधिकारी, एक सैन्य संगीत बैंड और पत्रकार सवार थे.

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि अब तक 11 शव मिल चुके हैं.

रूस के परिवहन मंत्री मैक्सीम सोकोलोफ़ ने कहा है कि रविवार को रूस के सैन्य विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह पायलट की ग़लती या तकनीकी ख़राबी हो सकती है.

पढ़ें: रूसी विमान हुआ क्रैश

दुर्घटनाग्रस्त विमान के मलबे का कुछ हिस्सा सोची तट से डेढ़ किलोमीटर दूर काला सागर में 165-230 फीट की गहराई में मिला था.

रूसी सुरक्षा सेवा एफ़एसबी के मुताबिक़ विमान, इंजन में किसी बाहरी चीज़ की मौजूदगी या ईंधन में ख़राबी की वजह से दुर्घटनाग्रस्त हुआ.

इस बीच मारे गए यात्रियों में से 11 के शव समुद्र से निकाले जा चुके हैं और उन्हें रूस भेज दिया गया है.

इमेज कॉपीरइट AP
इमेज कॉपीरइट Reuters

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)