'आईएस' ने ली नाइट क्लब हमले की ज़िम्मेदारी

हमले के बाद निकाले गए लोग

इमेज स्रोत, EPA

इमेज कैप्शन,

इस्तांबुल के नाइट क्लब पर हुए हमलों में 39 लोग मारे गए थे

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने तुर्की के शहर इस्तांबुल के एक नाइट क्लब पर हुए हमले की जि़म्मेदार ली है.

नए साल की पूर्व संध्या पर हुए इस चरमपंथी हमले में 39 लोग मारे गए थे और तक़रीबन 40 लोग ज़ख़्मी हुए थे. मारे जाने वालों में दो भारतीय भी शामिल थे.

इस्लामिक स्टेट ने एक बयान जारी कर हमलावर बंदूकधारी को 'ख़िलाफ़त का एक बहादुर सैनिक' बताया है.

इमेज स्रोत, AP

तुर्की मीडिया ने कहा है कि हमलावर नाइट क्लब टैक्सी से गया था. वह नए साल के जश्न में मशगूल लोगों पर सात मिनट तक गोलियां चलाता रहा. इस दौरान उसने 180 राउंड गोलियां दागीं.

मीडिया ख़बरों के मुताबिक़, बंदूकधारी ने हमला करने के बाद अपना कोट बदल लिया और अफ़रा-तफ़री का फ़ायदा उठा कर भाग निकला.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)