सीरिया में 25 जिहादियों की मौत

जबहात फ़तेज अल शाम
इमेज कैप्शन,

पिछले साल अल क़ायदा से अलग होकर नूस्रा फ्रंट, जबहात फ़तेज अल शाम गुट बन गया था.

उत्तरी सीरिया में हवाई हमलों में कम से कम 25 जिहादियों की मौत हो गई है.

सीरियाई युद्ध पर नज़र रखने वाले समूहों ने कहा है कि प्रमुख जिहादी संगठन के वरिष्ठ लड़ाकों की भी इस हमले में मौत हो गई है.

ब्रिटेन आधारित सीरियन ऑब्ज़र्वेट्री फ़ॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा है कि जबहाथ फ़तेह अल शाम गुट पर किसने हवाई हमले किए ये अभी साफ़ नहीं है. इस गुट को पहले नूस्रा फ्रंट के नाम से जाना जाता है.

रूस और तुर्की ने कहा था कि ये गुट सीरिय में जारी युद्ध विराम में शामिल नहीं था.

इमेज कैप्शन,

विद्रोहियों ने सीरियाई सरकार और उसके सहयोगी पर युद्ध विराम के उल्लंघन का आरोप लगाया है.

तुर्की और रूस की मदद से पुछले गुरुवार से सीरिया में युद्धविराम लागू किया जा सका है जो अब तक बरक़रार है.

इस महीने के अंत में कज़ाकिस्तान के अस्ताना में शांति वार्ता शुरू करने की योजना बनाई गई है.

सीरियन ऑब्ज़र्वेट्री ने कहा कि इदलिब प्रांत में हुई बमबारी अमरीका ने की या रूस ने इस बारे में स्पष्टता नहीं है.

हालांकि संस्था का कहना है कि जबहाथ फ़तेह अल शाम के कई वरिष्ठ सदस्य यहां एक बैठक कर रहे थे जब ये हमला हुआ. कई लोगों के घायल भी हो गए हैं.

इस गुट के प्रवक्ता अबु अनस अल शमी ने कहा कि ये हमला अमरीकी नेतृत्व वाले गठबंधन ने किया है.

फ़िलहाल ये गुट इदलिब पर नियंत्रण करने वाले विद्रोही गठबंधन का हिस्सा है.

पिछले महीने अलेप्पो को सीरियाई सेना ने विद्रोहियों के कब्ज़े से वापस लिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)