वन चाइना नीति पर समझौता नहीं: चीन

इमेज कॉपीरइट AP

चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि अमरीका के साथ चीन के रिश्तों में वन चाइना नीति वो आधार है जिस पर समझौता नहीं हो सकता.

विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर जारी बयान में चीन ने अमरीका में 'संबंधित पक्षों' से ताइवान मुद्दे की संवेदनशीलता को पहचानने का आग्रह किया है.

चीन का ये बयान अमरीका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के बयान का जवाब समझा जा रहा है जिसमें उन्होंने कहा था कि वन चाइना नीति पर बातचीत होगी.

डोनल्ड ट्रंप ने वॉल स्ट्रीट जर्नल को दिए एक इंटरव्यू में चीन को चेतानी दी है कि इस पर नए सिरे से बातचीत होगी.

चीन की कमज़ोर नस- 'वन चाइना पॉलिसी' क्या है?

'वन-चाइना पॉलिसी' के बारे में ट्रंप का बड़ा बयान

वन चाइना नीति में ताइवान को चीन का अंग माना गया है.

बीते कुछ महीनों से चीन और अमरीका में इस बात को लेकर विवाद खड़ा हुआ है.

वन चाइन नीति पर बयान देने के अलावा डोनल्ड ट्रंप राष्ट्रपति चुने जाने के बाद ताइवान के राष्ट्रपति से फोन पर बात भी कर चुके हैं जिसे लेकर चीन ने कड़ा विरोध जताया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)