क्या ये डोनल्ड ट्रंप के सौतेले भाई हैं?

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK / RICKEY SMILEY

अब तक शायद आपको पता चल गया होगा कि कीनिया के रहने वाले ये व्यक्ति डोनल्ड ट्रंप के सौतेले भाई नहीं हैं.

लेकिन ट्रंप जैसे दिखने के कारण लोगों ने इंटरनेट पर इनके बारे में बात करना नहीं छोड़ा. इसी साल जनवरी में अमरीकी कॉमेडियन और रेडियो होस्ट रिकी स्माइली ने अपने फ़ेसबुक पन्ने पर ये तस्वीर शेयर की थी. तब से ले कर अब तक हज़ारों लोग ये तस्वीर शेयर कर चुके हैं और लाखों लोग इस पर कमेंट कर चुके हैं.

बीबीसी ट्रेंडिंग: फ्रांस का 'दोहरा मापदंड'

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

कसांद्रा जोन्स ने लिखा, "आप लोग मुझे इतना हंसा रहे हैं कि मेरे पेट में दर्द होने लगा है."

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

ट्रूमेन लवलेस लिखती हैं, "ज़रा इनके बालों को तो देखो."

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

लेमंट पेगी ने लिखा, "आज सवेरे के रिकी स्माइली शो में वो जिस तस्वीर की बात कर रहे थे ये वहीं है. क्या ये ट्रंप के सौतेले भाई हैं? आपको क्या लगता है?"

इतना मज़ाक काफी नहीं था. एक व्यक्ति ने तो ये दावा तक कर दिया कि इनका नाम 'निरोंगो ट्रंप' है और ये मलावी के रहने वाले हैं.

बीबीसी ट्रेंडिंग: जब पुरुषों ने पहनी मिनी स्कर्ट

अरेंज्ड मैरेज टिप्स: विवाह के पहले 80 ईमेल्स

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

लेकिन इस तस्वीर में जो व्यक्ति हैं वो आख़िर हैं कौन? हमने इस बारे में थोड़ी बहुत पड़ताल की जिसके बाद हमें इनकी पहचान के बारे में पता चला. क्या आप भी जानने के लिए तैयार हैं?

ये हैं घाना के राष्ट्रपति नाना अकूफ़ो एडो.

20 ब्वॉयफ्रेंड, 20 आईफ़ोन और फिर...

तस्वीर जिसने किर्गिस्तान को किया 'शर्मिंदा'

इमेज कॉपीरइट NANA AKUFO-ADDO

जो तस्वीरें इंटरनेट पर शेयर हो रही हैं, उसी को आधार बना कर हमने पड़ताल शुरू की और हमें मिली असल अनएडिटेड तस्वीर, जिसमें नाना अकूफ़ो एडो अपनी न्यू पैट्रियॉटिक पार्टी के समर्थक और घाना के अभिनेता कोफ़ी अडू से मुलाक़ात कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट NANA AKUFO-ADDO

कितने लोगों ने वाकई में हमारी तरह तस्वीर में मौजूद व्यक्ति की पहचान खोजने की कोशिश की?

रिकी स्माइली के फ़ेसबुक पन्ने पर जो तस्वीर पोस्ट की गई थी उसमें मिले कुल 311 कमेंट्स में से केवल दो लोग ही पहचान पाए कि तस्वीर घाना के राष्ट्रपति की है.

घाना में गांधी-प्रतिमा हटाने की मुहिम

वायरल हुई मुस्लिम महिला की सेल्फ़ी लेती फ़ोटो

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

रेई क्वॉन ने लिखा, "ये तस्वीर एक मज़़ाक था. ये कीनिया के रहने वाले नहीं हैं. ये तो नाना एडो हैं जो बीते साल दिसंबर में घाना के राष्ट्रपति चुनाव में जीते थे. लोगों ने इन्हें नाना ट्रंप कहना शुरू कर दिया."

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

ईवोन ओवूसू अंसा ने लिखा, "नहीं ये ट्रंप के सौतेले भाई नहीं. ये घाना के राष्ट्रपति हैं. लोगों ने इनकी तस्वीर को फ़ोटोशॉप किया क्योंकि उन्होंने इस बार के चुनाव जीते हैं. और दोनों के चुनाव चिन्ह हाथी हैं... बस, यही एक समानता है."

इमेज कॉपीरइट GOP @Twitter, newpatrioticparty.org
Image caption अमरीका की रिपब्लिकन पार्टी और घाना की न्यू पैट्रियॉटिक पार्टी के चुनाव चिन्ह

हालांकि राष्ट्रपति नाना ऐडो ट्रंप के सौतेले भाई नहीं हैं, लेकिन उनके कई समर्थक उन्हें 'नाना ट्रंप' के नाम से पुकारते हैं. ऐसा इसलिए कि उनका चुनाव अभियान और चुनाव कुछ उसी वक्त हुआ जब अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव हो रहा था.

ऐसा लगता है कि इस तस्वीर को नाना ऐडो से समर्थकों ने सबसे पहले दिसंबर में शेयर किया था. इस तस्वीर पर लिखा था, "नाना ट्रंप: मेक घाना ग्रेट अगेन."

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

अब इस तस्वीर का रहस्य सुलझ गया है.

बीबीसी ट्रेंडिंग की कहानियां पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे