ब्रिटेन को साइबर हमले से बचाएंगे स्कूली बच्चे

इमेज कॉपीरइट PA

ब्रिटेन की सरकार का कहना है कि वो देश को भविष्य में होने वाले ख़तरों से बचाने के लिए साइबर विशेषज्ञों की एक नई फ़ौज तैयार करना चाहती है.

सरकार को उम्मीद है कि वो इसके लिए पांच हज़ार ऐसे स्कूली बच्चों को भर्ती करेगी जो सप्ताह में 4 घंटों की ट्रेनिंग लेने के लिए तैयार हों.

ट्विटर, साउंडक्लाउड साइबर हमलों के 'प्रभाव' में

अमरीका का रूस पर साइबर हमले का आरोप

ये एक पांच साल लंबी परियोजना होगी जिसमें 2 करोड़ 50 लाख डॉलर खर्च किए जाएंगे. परियोजना के तहत अच्छा प्रदर्शन करने वाले बच्चों को बढ़िया प्रदर्शन के लिए स्कूली शिक्षा, विश्वविद्यालय के लिए फंडिंग और नौकरी पाने में मदद की जाएगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सरकार का कहना है कि साइबर सुरक्षा एक उभरता हुआ उद्योग है जिसमें क़रीब 60 हज़ार लोग काम करते हैं.

राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले में किसी देश की साइबर सुरक्षा व्यवस्था में हैकर्स के सेंध लगाने को विश्व में चार बड़े ख़तरों में से एक माना गया है. इसके अलावा राष्ट्रीय सुरक्षा को सबसे अधिक ख़तरा चरमपंथ, जासूसी और महाविनाश के हथियारों से है.

ये हैं साइबर उचक्कों के नए हथकंडे

हयात के पेमेंट सिस्टम में साइबर सेंध

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे