कहाँ चढ़ गई ये लड़की!

लेंसकल्चर एक्सपोजर अवार्ड 2017
इमेज कैप्शन,

'ऑउट ऑफ द वे'

समकालीन फ़ोटोग्राफ़ी की पत्रिका लेंसकल्चर ने अपनी सालाना एक्सपोज़र अवार्ड के विजेताओं का एलान कर दिया है.

एलेना एनोसोवा की 'ऑउट ऑफ़ द वे' सिरीज़ की तस्वीरें पहले नंबर पर रहीं. ये तस्वीरें रूस के एकदम उत्तरी छोर पर रहने वालों के जीवन में झांकती हैं. यह इलाक़ा पूरी दुनिया से लगभग कट गया है. इस तस्वीर में उनका एकांत दिखता है. एनोसोवा बताती हैं, "दूरदराज के इस इलाके में सदियों से जीवन नहीं बदला. चारों तरफ सन्नाटा और उजाड़ फैला है."

प्रतियोगिता में दूसरे नंबर पर आर्मीनिया के आरेग बालायन की तस्वीरें रही. यह तस्वीरें उन्होंने सेना से जुड़े एक प्रोजेक्ट के लिए लीं जब वो काराबाख सेना से जुड़े थे.

एंटोनी ब्रू की आउटबैक माइथोलॉजी तीसरे नंबर पर रही. व्हाइट मैन्स होल प्रोजेक्ट की तस्वीरें ऑस्ट्रेलिया के शहर कूबर पेडी के इतिहास पर नज़र डालती हैं.

एकल तस्वीरों की सीरिज़ में पहले नंबर पर रही फ़ोटोग्राफ़र जोनाथन बैकमैन की ये बहुचर्चित तस्वीर.

2016 के जुलाई में अमरीका में आल्टन स्टर्लिंग नाम के एक काले व्यक्ति की पुलिस की गोलियों से मौत हो गई थी. उसके विरोध में कई जगह प्रदर्शन हुए. ब्लैक लाइव्स मैटर नाम के नागरिक अधिकार समूह की ओर से आयोजित ऐसे ही एक प्रदर्शन में महिला प्रदर्शनकारी ईशा इवान अपनी ओर बढ़ते दो पुलिसकर्मियों के सामने बिल्कुल शांत खड़ी थीं.

इस तस्वीर की फ़ोटोग्राफर सांद्रा मेहल हैं. तस्वीर में बचपन का रोमांच और शरारत दिखती है. ये फ्रांस में दो बहनों के रोज़मर्रा के जीवन पर बनी डॉक्यूमेंट्री का हिस्सा है. एकल तस्वीरों की सीरिज़ में यह तीसरे नंबर पर रही.

नादिर बुकेन की ये तस्वीर भी अंतिम दौर में पहुंची थी. उनकी तस्वीर में तुर्की में एक लड़का गधे पर दूध के कनस्तर लिए गांव से बाहर जा रहा है.

रास्मस डेगनबोल की इस तस्वीर में ग्रीस के एक द्वीप पर रबड़ की कश्तियां दिख रही हैं जिनपर शरणार्थी बैठे हैं. उन्होंने बताया कि 'यूरोप की नई सीमाएं' नाम की इस तस्वीर में अमानवीय होते तट संकट पर ध्यान खींचा गया है.

चीन के इंटरनेट कैफ़े की ज़िंदगी को तस्वीरों में उतारा है जिंगली वू ने .

इस तस्वीर में एक महिला मछली पकड़ने वाले जाल की मरम्मत कर रही है. यह वियतनाम के होन रो की है. फोटोग्राफ़र हैं ऐलन ओरियोर्डन.

ये तस्वीर 17 साल के अनाथ किशोर अब्दुल की है. स्टीफ़न क्लेनोविच ने इसे खींचा है. अब्दुल ने सिएरा लियोन की एक जेल में चार साल बिताए. यह तस्वीर उसी वक्त की है.

इस साल मुकाबले में पुरस्कार जीतने और अंतिम दौर में जगह बनाने वाली सारी तस्वीरों को यहां जाके देखा जा सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)