पाकिस्तान जनगणना: एक शौहर की 6 बीवियां और बच्चे 54

  • 2 अप्रैल 2017
हाजी अब्दुल मजीद
Image caption हाजी अब्दुल मजीद का बड़ा परिवार

पाकिस्तान के बलूचिस्तान सूबे में हो रही जनगणना के दौरान एक ऐसे परिवार का पता चला है जिनके यहां 54 बच्चों का जन्म हुआ है.

इन बच्चों में 12 मर चुके हैं और 42 अभी भी जीवित हैं.

बीबीसी उर्दू संवाददाता मोहम्मद काज़मी के अनुसार 50 से अधिक बच्चे पैदा करने वाले हाजी अब्दुल मजीद बलूचिस्तान के नुश्की ज़िले के रहने वाले हैं.

नुश्की क्वेटा से लगभग 130 किलोमीटर की दूरी पर पूर्व की ओर अफगानिस्तान सरहद पर स्थित है. अब्दुल मजीद की उम्र 70 वर्ष है और वे पेशे से ड्राइवर हैं.

पाकिस्तान में जनगणना, सिख नाराज़

पाकिस्तान में दो दशकों बाद शुरू हुई जनगणना

अब्दुल मजीद ने छह शादियां की थीं. उनकी पत्नियों में से दो की मौत हो चुकी है जबकि चार बीवियां अभी भी उनके साथ रहती हैं.

अब्दुल मजीद के 42 जीवित बच्चों में 22 बेटे और 20 बेटियां हैं.

इस जनगणना से पहले क्वेटा शहर के निवासी जान मोहम्मद खिलजी को सबसे ज्यादा बच्चों का पिता कहा जाता था.

जान मुहम्मद के यहां अब तक 36 बच्चों का जन्म हुआ था.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
पाकिस्तान के सरहदी प्रांत में जनगणना करने वालों महिला अधिकारी न के बराबर

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे