श्रीलंकाः कचरा हादसे में लोगों के बचने की संभावना कम

कचरे का ये ढेर 300 फ़ीट ऊँचा हो गया था

इमेज स्रोत, Reuters

इमेज कैप्शन,

कोलंबो में कचरे का ये ढेर 300 फ़ीट ऊँचा हो गया था

श्रीलंका में कचरे के एक बड़े ढेर के ढहने से हुए हादसे में लोगों के ज़िन्दा बचने की आशा कम पड़ती जा रही है.

सेना के अनुसार कोलंबो में शुक्रवार को हुए हादसे में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है जिनमें छह बच्चे हैं.

कोलंबो के उपनगर कोलोन्नवा में हुई इस दुर्घटना को लेकर स्थानीय लोगों में नाराज़गी बढ़ती जा रही है जिनका कहना है कि बरसों से उनकी चिन्ताओं को नज़रअंदाज़ किया जाता रहा.

रविवार को मारे गए लोगों की अंत्येष्टि कर दी गई. स्थानीय लोग राजनेताओं को दुर्घटनास्थल पर आने से रोक रहे हैं.

इमेज स्रोत, EPA

300 फ़ीट ऊँचा कचरे का पहाड़

सरकार ने अब कचरा फेंकने की इस जगह को बंद करने की घोषणा की है.

बताया जा रहा है कि यहाँ हर दिन 800 टन कचरा फेंका जा रहा था.

कचरा जमा करने से वहाँ 300 फ़ीट ऊंचा टीला बन गया था जो पानी से ढह गया और इसके बाद इसमें आग लग गई.

इमेज स्रोत, AFP

जलते कचरे ने पड़ोस की झुग्गियों को अपनी चपेट में ले लिया और 40 घर नष्ट हो गए.

हादसे से लगभग एक हज़ार लोग बेघर हो गए हैं.

ये हादसा उस वक्त हुआ जब तमिल और सिंहला समुदाय के लोग अपने सिंहला नव वर्ष का जश्न मना रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)