अमरीकी रैपर आंद्रे जॉनसन ने बताया, क्यों काटा था अपना लिंग?

आंद्रे जॉन्सन
इमेज कैप्शन,

आंद्रे जॉनसन

अमरीकी रैपर आंद्रे जॉनसन उर्फ़ क्राइस्ट बेयरर साल 2014 के अप्रैल महीने में अपना लिंग काटने के बाद अचानक से सुर्खियों में आ गए थे.

जॉनसन के मुताबिक इस घटना के वक्त वे बेहद तनाव में थे.

सुधार की प्रक्रिया से गुजरते जॉनसन ने उस घटना के दो साल बाद बीबीसी को बताया कि क्यों और कैसे उन्होंने अपना ही लिंग काट डाला था.

ड्रग्स, गांजा, शराब का नशा

घटना के बाद 911 को की गई फोन कॉल में इस घटना की भयावह स्थिति स्पष्ट होती है

"सुनिए, यहां हमारे एक दोस्त था जिसने अपना लिंग काट लिया है, हे भगवान, मुझे इस बात पर विश्वास नहीं हो रहा है."

जॉनसन कहते हैं, "मैं बस उठा और मैंने अचानक से किचन में पहुंचकर चाकू उठा लिया, मैंने अपनी पैंट खिसकाई और चाकू से..."

लिंग काटने की इस घटना से आश्चर्य और मज़ाक के साथ छापा गया.

डॉक्टर्स सर्जरी के बाद भी लिंग के कटे हुए भाग को जोड़ने में सफल नहीं हो पाए.

जॉनसन समझाते हैं कि इस घटना से ऐसा नहीं हुआ है कि उनका लिंग किसी काम का नहीं रहा.

जॉनसन कहते हैं, "सेक्स के दौरान, ऐसा नहीं होता कि मुझे लगे कि काश मैं अपना लिंग नहीं काटता, सब कुछ सामान्य होता है"

डिप्रेशन में थे जॉनसन

इस घटना के बाद जॉनसन को अस्पताल में भर्ती किया गया जहां उन्हें पता चला कि वह गंभीर डिप्रेशन के शिकार थे और उन्हें मनोचिकित्सक की मदद लेने को कहा गया.

वह कहते हैं, "उन्हें पता भी नहीं चला कि वह डिप्रेशन के शिकार थे"

जॉनसन अब मानते हैं कि युवाओं में डिप्रेशन और मानसिक स्वास्थ्य को लेकर राय बदली जाने की जरूरत है.

जॉनसन ने माना कि घटना के दिन वह गांजे, और शराब के नशे में थे.

इसके साथ ही महिलाओं के साथ टूटे हुए रिश्ते भी उनके दिमाग में थे.

जॉनसन कहते हैं, "मेरे दिमाग में मेरी समस्याएं मुझे परेशान कर रही थीं, मैं सोच रहा था कि महिलाओं के साथ मेरे रिश्ते सिर्फ निर्दयी रहे हैं, किसी तरह की नैतिकता नहीं लिए, मैंने कहा, मैं इस समस्या को ही मिटा दूंगा जिसकी वजह से मुझे इतनी दिक्कत हो रही है, यही वह मौका था जब मुझ पर पागलपन सवार हुआ और मैंने कहा कि मेरा लिंग नियंत्रण से बाहर है."

जॉनसन को ड्रग्स की समस्या के चलते दो शादियों से हुई दोनों बेटियों से मिलने से वंचित रहना पड़ा है.

सामान्य बन चुका है तनाव

जॉनसन अपने समाज में युवावर्ग के बीच तनाव की स्थिति को लेकर स्थिति बयां करते हैं.

वे कहते हैं, "मेरे समुदाय में कोई किसी को ये नहीं बताता कि वह डिप्रेशन या किसी मानसिक अवसाद से गुजर रहा है, जब ऐसा होता है तो हम ड्रग्स लेते हैं, आप समझ रहे हैं न, युवा एक दूसरे को कहते हैं, ये पियो या वो नशा करो."

वे कहते हैं, "अगर कोई अपने तनाव के बारे में बताता है तो युवा वर्ग एक दूसरे को तरह-तरह के नशों के जरिए तनाव दूर करने के बारे में बताता है."

टूटते परिवार और नशा

जॉनसन बताते हैं कि वे अपनी मां के काफी करीब थे लेकिन अपनी मां की मौत पर भी नहीं रोए और ड्रग्स के नशे में जी रहे थे.

ऐसे में उन्होंने इस कमी को पूरा करने के लिए अपनी ज़िंदगी में एक बच्चे को लाने का फैसला किया और अपनी गर्लफ्रेंड से शादी कर ली.

इस शादी से जॉनसन को एक बेटी हुई लेकिन इसके बावजूद जॉनसन ड्रग्स के नशे से आजाद नहीं हुए.

जॉनसन बताते हैं कि उन्होंने घर में क्लेश का माहौल बनाया हुआ था.

वह कहते हैं कि तलाक होना तय था, ये एक दूसरी मौत की तरह था. इसके बाद उनकी पत्नी ने उन पर बेटी से मिलने का प्रतिबंध लगवा दिया.

इसके बाद उन्होंने दूसरी शादी अमातुल्लाह के साथ की जिससे उन्हें एक और बेटी लाना हुई. लेकिन इस बार भी उनकी पत्नी ने उन पर बेटी से मिलने पर प्रतिबंध लगवा दिया.

वे कहते हैं, "यह बहुत ही डरावना था क्योंकि वह सब कुछ वही होता देख रहे थे जो पहले हो चुका था."

ऐसे ही तमाम तनावों से जूझते हुए जॉनसन ने ड्रग्स के नशे में अपने साथ हिंसा को अंजाम दिया.

जॉनसन अब लॉस एंजेल्स में अपनी पत्नी और बेटी के साथ रहते हैं.

वह कहते हैं कि वह अब भी हल्के तनाव से जूझ रहे थे हैं लेकिन उनकी पत्नी अमातुल्लाह और बेटी लाना का साथ उनके लिए मददगार साबित हो रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)