फिर एक पाकिस्तानी क्रिकेटर फंसा स्पॉट फ़िक्सिंग में

शरजील ख़ान इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption शरजील ख़ान

पाकिस्तान के टेस्ट बल्लेबाज शरजील ख़ान पर स्पॉट फ़िक्सिंग में उनकी भूमिका के लिए पांच साल का प्रतिबंध लगाया गया है.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) की भ्रष्टाचार रोधी समिति ने शरजील को पांच धाराओं के उल्लंघन का दोषी पाया.

पीसीबी की इस समिति द्वारा बुधवार को जारी एक संक्षिप्त आदेश के अनुसार शरजील पर पांच साल का प्रतिबंध दो चरणों में लगाया जाएगा.

समिति ने कहा कि पहले ढाई साल के लिए शरजील निलंबित रहेंगे यानी इस दौरान वो कोई अंतरराष्ट्रीय या राष्ट्रीय मैच नहीं खेल सकेंगे. इसके बाद उनकी वापसी पर नजदीकी नज़र रखी जाएगी.

यह प्रतिबंध इस साल 10 फरवरी से प्रभावी होगी.

श्रीलंकाई कप्तान थरंगा पर दो मैचों का प्रतिबंध

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption शरजील ख़ान और ख़ालिद लतीफ़

क्या है पूरा मामला?

तब शरजील को पाकिस्तान सुपर लीग में इस्लामाबाद युनाइटेड और पेशावर जल्मी के बीच उद्घाटन मैच में फ़िक्सिंग में शामिल पाया गया था.

शरजील ने उस मैच में चार गेंदों पर एक रन बनाए. दो गेंदों पर उन्होंने कोई रन नहीं बनाए और चौथी गेंद पर आउट हो गए.

लतीफ़ उस मैच में एकादश का हिस्सा नहीं थे, लेकिन उन पर आरोप है कि इस डील को तय करने में उनका हाथ था.

पाकिस्तान सुपर लीग के पहले ही दिन शरजील ख़ान और ख़ालिद लतीफ़ को कथित संदिग्ध व्यक्तियों से संपर्क के बाद पीसीबी ने निलंबित कर दिया था.

स्पॉट फ़िक्सिंग के आरोपों में उन्हें तब दुबई से वापस भेज दिया गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ख़ालिद लतीफ़ पर भी स्पॉट फ़िक्सिंग का आरोप है लेकिन उन पर प्रतिबंध की कोई ख़बर नहीं आई है.

शरजील को लाहौर हाई कोर्ट के पूर्व जज असगर हैदर की अध्यक्षता वाली समिति ने सज़ा सुनाई है.

शरजील ने अब तक एक टेस्ट, 25 वनडे और 25 टी20 मैच खेले हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे