'ब्लैकमेल करके बच्चों से करवाता था रिश्तेदारों का रेप'

  • 6 सितंबर 2017
पॉल लेटन इमेज कॉपीरइट NORTHUMBRIA POLICE
Image caption पॉल लेटन

उत्तर इंग्लैंड में बच्चों का शोषण करने वाले एक शख़्स को रेप के मामले में 16 साल की सज़ा सुनाई गई है.

इस मामले में ख़ास बात यह है कि जिस वक्त वारदात को अंजाम दिया गया था, उस समय यह शख्स घटनास्थल से हज़ारों मीलों दूर था.

दरअसल पॉल लेटन नाम का यह शख्स किशोरों को ब्लैकमेल करके उन्हें रिश्तेदारों का रेप करने के लिए मजबूर करता था.

इंग्लैंड की डरहम काउंटी में रहने वाले 32 वर्षीय पॉल लेटन ने 40 फर्ज़ी फेसबुक प्रोफाइल्स बनाई हुई थी. इनके ज़रिए वह यूके, कनाडा, अमरीका और ऑस्ट्रेलिया के किशोरों के साथ दोस्ती करता था.

पहले वह धोखे से उन किशोरों से अश्लील तस्वीरें मंगाता, फ़िर उन तस्वीरों को उनके रिश्तेदारों को दिखाने की बात कहकर ब्लैकमेल करता था. पॉल ने न्यूकासल क्राउन कोर्ट में 21 अपराध स्वीकार किए हैं.

बाल यौन शोषण वीडियो का 'हब' बना यूरोप

बाल यौन शोषण: ख़तरा अपनों से है

भतीजी से रेप के लिए किया मजबूर

कोर्ट फ्लोरिडा (अमरीका) 14 साल के एक किशोर के मामले की सुनवाई कर रहा था. पॉल इस किशोर के साथ लड़की बनकर बात करता था. बाद में उसने इस किशोर को ब्लैकमेल करते हुए 1 साल की भतीजी का कई बार रेप करने को मजबूर किया.

इमेज कॉपीरइट iStock
Image caption प्रतीकात्मक तस्वीर

पॉल उस किशोर को धमकाता था कि उगर उसने ऐसा करने नहीं किया तो वह उसके अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर डाल देगा.

पॉल लेटन को 16 साल की सज़ा सुनाते हुए जज रॉबर्ट एडम ने कहा कि पॉल ने इन लोगों की ज़िंदगी तबाह कर दी.

उन्होंने कहा कि पॉल ख़तरनाक है और उसने यूके एवं विदेशों में बच्चों के लिए ख़तरा पैदा किया.

कोर्ट ने कहा कि पॉल ने उत्तर-पूर्वी इंग्लैंड में दो ब्रिटिश किशोरियों के साथ-साथ एक नौ साल की लड़की के साथ भी यौन दुर्व्यवहार किया.

सावधान! स्याह इंटरनेट पर हैं बच्चों के शिकारी

'भारत में संभव नहीं पोर्न साइट के लिए उम्र का वेरिफिकेशन'

कई मामलों में शामिल रहा है यह अपराधी

एफ़बीआई कुछ अन्य मामलों की जांच भी कर रही है. माना जा रहा है कि उनमें भी पॉल शामिल हो सकता है.

पिछले साल नवंबर में पुलिस ने जांच के बाद पॉल को सेहम (डरहम) में माल्वर्न क्रिसेंट से गिरफ़्तार किया था. उस वक़्त उसपर अश्लील तस्वीरों के लेन देन करने के आरोप थे.

पॉल के फ़ोन की जांच के बाद यह सबूत मिले कि उसने उत्तर अमरीका में 100 से अधिक बच्चों के साथ दुर्व्यवहार किया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption बच्चों को ब्लैकमेल करता था पॉल

पुलिस को पॉल ने बताया कि उसने तीन रेप करने के साथ-साथ बच्चों को ब्लैकमेल करने उनकी अश्लील तस्वीरें लेने जैसे अपराध किए थे.

पीड़ितों के वकील पॉल रीड ने कहा, "फ्लोरिडा के किशोर और उसकी भतीजी के साथ हुआ दुर्व्यवहार 'पॉल रेटन के रेप अभियान' का हिस्सा था. और कोर्ट ने 4000 मील दूर रहते हुए भी उसे बच्ची के चाचा को रेप के लिए अपना सहायक बनाने का दोषी पाया."

'बाल यौन शोषण के हज़ारों केस रिपोर्ट नहीं होते'

बच्चों का इंटरनेट सीमित करना हल नहीं

यौन सुख के लिए नहीं किया

जांचकर्ता एंड्रयू रटर ने बताया है कि पॉल गांजे का शौकीन है और उसने पहली बार में ही अपना अपराध स्वीकार कर लिया.

जांचकर्ता का कहना है, " पॉल का कहना है कि उसने ऐसा यौन सुख के लिए नहीं किया, बल्कि ऐसा करने से उसे दूसरों पर नियंत्रण हासिल करने और शक्तिशाली होने का अनुभव हुआ."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे