गुजराती मूल के शाह को ट्रंप ने दी अहम ज़िम्मेदारी

  • 14 सितंबर 2017
राज शाह इमेज कॉपीरइट TWITTER @RajShah45

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल के राज शाह को अपनी कम्युनिकेशन टीम में महत्वपूर्ण पद पर नियु​क्त किया है.

व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में बताया गया है, 'राज शाह राष्ट्रपति के डिप्टी असिस्टेंट और प्रिंसिपल डिप्टी प्रेस सेक्रेटरी के तौर पर काम करेंगे.'

इससे पहले शाह राष्ट्रपति के डिप्टी असिस्टेंट और डिप्टी कम्युनिकेशन डायरेक्टर के तौर पर काम कर रहे थे.

32 साल के शाह को डोनल्ड ट्रंप का करीबी माना जाता है. ट्रंप के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के कुछ घंटों के अंदर ही व्हाइट हाउस में जगह पाने वालों में से वो एक बताए जाते हैं.

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान भी राज शाह ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. हिलेरी क्लिंटन के ख़िलाफ़ कैंपेन चला रही टीम का वो नेतृत्व कर रहे थे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

शाह सहित अन्य लोगों की नियुक्ति की घोषणा करते हुए अमरीका के चीफ़ ऑफ़ स्टाफ़ राइंस प्रीबस ने कहा, 'ये लोग राष्ट्रपति के चुनावी एजेंडे को लागू करने और वॉशिंगटन में असल बदलाव लाने में मदद करने वाले प्रमुख लोग होंगे.'

गुजरात में हैं जड़ें

कनेक्टिकट में जन्मे और पले-बढ़े राज शाह के माता-पिता 1980 में अमेरिका आ गए थे. मूल तौर पर राज शाह की जड़ें गुजरात से जुड़ी हुई हैं.

शाह के माता-पिता गुजरात से हैं. उनके पिता एक इंजीनियर हैं. शाह की मां कच्छ में भोजपुर की रहने वाली हैं.

उनके पिता 1970 में पढ़ने के लिए अमेरिका आए थे. फिर वो भारत वापस लौटे आए. लेकिन, यहां शादी के बाद वो फिर अमरीका चले गए. शुरुआत में वो शिकागो में रहे और उसके बाद कनेक्टिकट चले गए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

क्लिंटन के ख़िलाफ़ कैंपेन में भूमिका

राज शाह व्हाइट हाउस में आने से पहले रिब्लिकन नेशनल कमिटी में अपोजिशन रिसर्च के निदेशक पद पर थे.

उन्होंने चुनाव के दौरान डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के ख़िलाफ़ रिसर्च करने वाली टीम का नेतृत्व किया था.

उन्होंने क्लिंटन के राजनीतिक पदों के विरोधाभासों और उनके निजी ईमेल सर्वर को हैंडल करने जैसे मुद्दों को उठाने वाले अभियान में मदद की थी.

राज शाह को​ विरोधियों के ख़िलाफ़ रिसर्च में विशेषज्ञ माना जाता है जिसमें विपक्षी उम्मीदवार की नकारात्मक जानकारियां जुटाई जाती हैं, ताकि उसका सियासी इस्तेमाल किया जा सके.

साथ ही राज शाह ने जॉर्ज बुश के राष्ट्रपति पद पर रहने के दौरान व्हाइट हाउस में रिसर्च असिस्टेंट का काम भी किया था.

वह अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबाम के ख़िलाफ़ जॉन मैक्केन के 2008 के राष्ट्रपति चुनाव अभियान का भी हिस्सा रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे