मुनरो से क़ब्र में होगी प्ले ब्वॉय की मुलाकात!

  • 29 सितंबर 2017
मर्लिन मुनरो इमेज कॉपीरइट Reuters

प्लेबॉय के संस्थापक ह्यू हेफ़नर का शव भी एक ख़ूबसूरत महिला की क़ब्र के बगल में दफ़्न किया जाएगा. अमरीका में कैलिफ़ोर्निया के लॉस ऐंजिलिस में वेस्टवुड गांव के मेमोरियल पार्क क़ब्रिस्तान में मर्लिन मुनरो दफ़्न हैं.

हेफ़नर जब तक जीवित रहे तब तक अपने प्रेम संबंधों को लेकर बदनाम रहे, लेकिन उन्होंने मौत के बाद भी इस बदनामी की व्यवस्था कर ली थी.

बुधवार को 91 साल की उम्र में हेफ़नर का निधन हो गया था. हॉलीवुड की चर्चित अभिनेत्री मर्लिन मुनरो को जहां दफ़्न किया गया है, वहीं दफ़्न होने के लिए बगल की ज़मीन हेफ़नर ने 1992 में क़रीब 50 लाख रुपए में ख़रीद ली थी.

हालांकि उनके इस फ़ैसले को लेकर लोगों की राय बँटी हुई है.

कुछ लोग इसे हेफ़नर के व्यवहार के तौर पर देख रहे हैं तो कुछ लोग इसे घुसपैठ की तरह देख रहे हैं.

हेफ़नर के प्रशंसक इसे मुनरो के प्रति सम्मान के रूप में देख रहे हैं- जो कि प्लेबॉय मैगज़ीन की पहली कवर गर्ल बनी थीं. मुनरो का 1962 में निधन हो गया था.

लड़कियां क्यों थीं प्लेब्वॉय की दीवानी?

इमेज कॉपीरइट PLAYBOY

हालांकि कुछ लोगों का कहना है कि हेफ़नर ने प्लेबॉय का पहला अंक दिसंबर 1953 में निकाला था और मुनरो जिस रूप में कवर गर्ल बनी थीं उससे उन्हें शर्मिंदगी ही उठानी पड़ी थी. कहा जाता है कि इसके बाद मुनरो अपने भविष्य को लेकर आशंकित हो गई थीं.

मुनरो न्यूड पोज देने के लिए सहमत हो गई थीं. उन्होंने एक्टिंग में आने और पैसे के लिए यह क़दम उठाया था. मुनरो को इसके लिए तब 50 डॉलर की रक़म मिली थी. चार साल बाद प्लेबॉय मैगज़ीन छा गई. इसकी हज़ारों कॉपी रातोरात बिकने लगी.

मुनरो ने भी इसे लेकर अपनी बात खुलकर कही थी. उन्होंने लिखा था, ''जिन्होंने मर्लिन मुनरो की न्यूड तस्वीर से लाखों डॉलर कमाए उन्होंने कभी शुक्रिया तक नहीं कहा. यहां तक कि मैंने अपनी तस्वीर देखने के लिए उस अंक का ख़रीदा था.''

हेफ़नर की मर्लिन मुनरो से कभी मुलाक़ात नहीं हुई. हेफ़नर ने कहा था कि एक बार उनकी फ़ोन पर बात हुई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे