डोनल्ड ट्रंप को कोर्ट ने फिर दिया झटका

  • 18 अक्तूबर 2017
ट्रैवल बैन इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption यह महिला (बीच में) जोर्डन से यात्रा करते हुए कैलीफॉर्निया पहुंची, उनके पास यमन का पासपोर्ट है.

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप को कोर्ट ने एक बार फिर झटका दिया है.

ट्रंप ने हाल ही में आठ देशों के नागरिकों के अमरीका आने पर प्रतिबंध लगाने के आदेश जारी किया था, जिसे कोर्ट ने लागू करने से इनकार कर दिया है.

ट्रंप का यह ट्रैवल बैन इसी हफ्ते से लागू होना था, लेकिन एक फेडरल जज ने इस आदेश पर अस्थायी तौर पर रोक लगा दी है.

इस नए ट्रैवल बैन में ईरान, लीबिया, सीरिया, यमन, सोमालिया, चाड और उत्तर कोरिया के नागरिक शामिल थे.

इसके साथ ही वेनेज़ुएला के कुछ अधिकारियों पर भी यह प्रतिबंध लगाया गया था.

इससे पहले भी ट्रंप 6 मुस्लिम बहुल देशों पर इसी तरह का प्रतिबंध लगा चुके हैं, हालांकि उस समय भी अमरीकी सुप्रीम कोर्ट ने इस आदेश को पलट दिया था.

आदेश के ख़िलाफ़ केस

अमरीका के हवाई राज्य ने होनोलुलु में ट्रंप के इस ट्रैवल बैन के ख़िलाफ़ मुकदमा किया था. यह प्रतिबंध बुधवार से लागू होना था.

कोर्ट में हुई बहस के दौरान हवाई राज्य ने कहा कि फेडरल इमिग्रेशन कानून के तहत राष्ट्रपति के पास यात्रा संबंधी प्रतिबंध लगाने के अधिकार नहीं हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीका के ज़िला न्यायाधीश डैरिक वॉटसन ने इस प्रतिबंध पर रोक का आदेश दिया है, उन्होंने ही मार्च ट्रंप के पिछले ट्रैवल बैन को रोका था.

'अमरीकियों के लिए कैसे हानिकारक'

न्यायाधीश ने अपने फैसले में लिखा, ''यह नई नीति भी पुरानी नीतियों की तरह ही है.''

उन्होंने कहा, ''हमें ऐसा कुछ भी नहीं मिला जिससे यह यह पता लगाया जा सके कि 6 देशों के डेढ़ करोड़ से ज़्यादा नागरिकों का अमरीका आना अमरीकियों के हितों के लिए वाकई हानिकारक साबित होगा.''

हवाई राज्य ने अपनी दलील में कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप मुस्लिम देशों के ख़िलाफ़ अपनी नीति और चुनाव के समय किए गए वायदों को पूरा करने के लिए यह प्रतिबंध लगा रहे हैं.

इस बार के ट्रैवल बैन में मुस्लिम राष्ट्रों के अलावा उत्तर कोरिया और वेनेज़ुएला भी शामिल हैं.

हवाई के अलावा वॉशिंगटन स्टेट, मैसाच्युसेट्स, कैलिफॉर्निया, ओेरेगन, न्यूयॉर्क और मैरीलैंड भी इस ट्रैवल बैन के ख़िलाफ़ हैं.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
राष्ट्रपति ट्रंप के ट्रैवल बैन पर कोर्ट की रोक

मार्च में लगा था 'मुस्लिम बैन'

व्हाइट हाउस की प्रैस सचिव सारा हुकाबी सैंडर्स ने कहा, ''यह प्रतिबंध अमरीकी नागरिकों की सुरक्षा के मद्देनज़र ही लगाया गया है, हमें भरोसा है कि कोर्ट राष्ट्रपति ट्रंप के इस आदेश को दोबारा लागू करेगा.''

राष्ट्रपति ट्रंप ने मार्च में 6 मुस्लिम राष्ट्रों के ख़िलाफ़ ट्रैवल बैन लगाया था, इस विवादित प्रतिबंध को उस समय 'मुस्लिम बैन' कहा गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों के अमरीका आने पर लगी रोक का विरोध हुआ था.

इस प्रतिबंध के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन हुए थे. बाद में जुलाई माह में अमरीका के सुप्रीम कोर्ट ने इस प्रतिबंध को हटा दिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे