उत्तर कोरिया का परमाणु ख़तरा बढ़ रहा हैः अमरीका

  • 28 अक्तूबर 2017
जेम्स मैटिस इमेज कॉपीरइट AFP/getty

अमरीकी रक्षामंत्री जेम्स मैटिस ने कहा है कि उत्तर कोरिया से परमाणु हमले का ख़तरा बढ़ रहा है.

दक्षिण कोरिया के दौरे पर गए मैटिस ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उत्तर कोरिया परमाणु हथियारों का इस्तेमाल किया किया तो उसे व्यापक सैन्य कार्रवाई का सामना करने पड़ेगा.

इस बीच उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया की मछली पकड़ने वाली एक नाव को वापस लौटा दिया है. उत्तर कोरिया ने कहा कि अवैध रूप से ये नाव उसकी जल सीमा में पाई गई थी.

दक्षिण कोरिया के अधिकारियों ने बताया कि इस नाव के 10 चालक सदस्यों को शुक्रवार को रिहा कर दिया गया है. ये ऐसे समय आया है जब इस इलाक़े में तनाव अपने उच्च स्तर पर है और दोनों पक्ष लगातार सैन्य अभ्यास कर रहे हैं.

समाचार एजेंसी एपी ने मैटिस के हवाले से कहा, "उत्तर कोरिया ने अपने ग़ैर ज़रूरी मिसाइल परीक्षण और परमाणु कार्यक्रमों की वजह से अपने पड़ोसियों और बाक़ी दुनिया के लिए ख़तरे को बढ़ा दिया है."

उन्होंने कहा कि अमरीका और दक्षिण कोरिया के बीच सुरक्षा सहयोग इस 'नए आपातकाल' के लिए तैयार है. उन्होंने कहा कि वॉशिंगटन, परमाणु हथियार संपन्न उत्तर कोरिया को स्वीकार नहीं कर सकता.

उत्तर कोरिया से सख़्ती से निपटेगा जापान

अपने ही परमाणु परीक्षण से ख़तरे में उत्तर कोरिया?

इमेज कॉपीरइट AFP/getty

अमरीकी रक्षा मंत्री दक्षिण कोरिया के साथ सलाना रक्षा बातचीत के लिए सियोल में हैं. नवंबर में अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप भी अपने एशियाई दौरे के तहत नवंबर में दक्षिण कोरिया जाने वाले हैं.

पिछले सितम्बर में उत्तर कोरिया ने अपना छठा परमाणु परीक्षण किया, जोकि अब तक का उसका सबसे बड़ा परमाणु परीक्षण था.

एक अनुमान के मुताबिक, इस बम की ताक़त 50 से 120 किलो टन थी. 50 किलो टन बम का आकार, 1945 में हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम से तीन गुना अधिक होता है.

उत्तर कोरिया ने कई मिसाइल परीक्षण किए और अगस्त- सितम्बर में दो अंतरमहाद्वीपीय मिसाइलों का परीक्षण जापान के ऊपर से किया था.

इसके बाद दक्षिण कोरिया ने अपनी सुरक्षा के लिए अमरीकी थाड मिसाइल डिफ़ेंस सिस्टम को तैनात करना शुरू कर दिया है.

इस महीने की शुरुआत में अमरीका और दक्षिण कोरिया ने कोरियाई प्रायद्वीप की जल सीमा में एक संयुक्त सैन्य अभ्यास भी किया जिसमें लड़ाकू विमान, विमान वाहक पोत और डिस्ट्रॉयर भी शामिल थे.

इस सैन्य अभ्यास का प्योंगयांग ने विरोध किया और इसे युद्ध का पूर्व अभ्यास बताया.

उत्तर कोरिया लड़ा तो चीन साथ नहीं देगा?

उत्तर कोरिया को कहां से मिलता है इंटरनेट

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए