दूध में ज़हर दे पति समेत 15 की जान लेने का आरोप

  • 1 नवंबर 2017
पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट AFP/GETTY IMAGES
Image caption सांकेतिक तस्वीर

पाकिस्तान में एक नवविवाहिता महिला को अपने पति और परिवार के 14 सदस्यों की जान लेने के आरोप में पुलिस ने गिरफ़्तार किया है.

इन सभी की मौत ज़हरीली लस्सी पीने से हुई है. पाकिस्तान में मुज़फ्फ़रगढ़ ज़िले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि आसिया बीबी नाम की एक महिला ने अपने पति को दूध में ज़हर मिलाकर दिया था.

पुलिस के मुताबिक़ आसिया का पति उस वक़्त दूध नहीं पी पाया और बाद में उस दूध को लस्सी में मिला दिया गया. इसी लस्सी को घर के बाक़ी सदस्यों को पीने के लिए दिया गया.

पुलिस ने इसमें एक पुरुष को भी गिरफ़्तार किया है. इस आदमी को आसिया का प्रेमी बताया जा रहा है.

साजिश

इसमें आसिया की चाची को भी साज़िश रचने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया है. पुलिस का कहना है कि आसिया को सितंबर में मां-बाप की पसंद से जबरन शादी कराई गई थी. पाकिस्तान की ग़रीब परिवारों और ग्रामीण इलाक़ों में इस तरह की शादियां आम हैं.

यह मामला पाकिस्तान में मुज़फ्फ़रगढ़ का है. स्थानीय मीडिया का कहना है कि नवविवाहिता ने अपने पति के घर से भाग माता-पिता के पास जाने की कोशिश की, लेकिन वो कामयाब नहीं रहीं.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ओवैस अहमद ने इस बात की पुष्टि की है कि आसिया बीबी पर हत्या का मुक़दमा दर्ज़ किया गया है. मुज़फ्फ़गढ़ पुलिस ने बीबीसी से कहा कि 15 लोग मारे गए हैं जबकि 8 लोग पास में ही मुल्तान के अस्पताल में भर्ती हैं.

जब दूषित दूध पहली बार दिया गया तो लोगों के दम तोड़ने की संख्या पिछले गुरुवार से बढ़ने लगी थी. आठ लोगों ने तो शुरू में ही दम तोड़ दिया.

अवैस अहमद ने कहा कि किस तरह के ज़हर का इस्तेमाल किया गया था, इसकी पुष्टि केमिकल टेस्ट के बाद ही संभव है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे