ओसामा की थी कश्मीर पर नज़र

लादेन

इमेज स्रोत, Getty Images

चरमपंथी संगठन अल-कायदा के प्रमुख रहे ओसामा बिन लादेन कश्मीर पर अपनी पैनी नज़र रखते थे. वे मुंबई हमलों के आरोपी डेविड कॉलमेन हेडली की न्यायिक जांच पर भी निगाह रखते थे.

एक मई 2011 की रात अमरीकी सैनिकों ने ओसामा को पाकिस्तान के एबटाबाद शहर में मारा था. बुधवार को अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए ने इस कार्रवाई से जुड़ी 4 लाख 70 हज़ार फाइलें ज़ारी की हैं.

ये फाइलें उसी सैनिक कार्रवाई के दौरान ज़ब्त की थीं.

इन फ़ाइलों के ज़रिए ओसामा की ज़िंदगी से जुड़े कई रहस्यों से पर्दा उठा है. इसमें लादेन के बेटे की शादी के वीडियो और कुछ डायरियां शामिल हैं.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

लादेन को मारने वाले अमरीकी ऑपरेशन के दौरान व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति ओबामा

भारत के अख़बार पढ़ते थे ओसामा

सीआईए की फाइलों से मालूम चला है कि ओसामा बिन लादेन मुंबई हमलों के आरोपी पाकिस्तानी-अमरीकी नागरिक डेविड कॉलमेन हेडली की अदालती कार्यवाही से जुड़ी ख़बरों पर करीबी निगाह बनाए रखते थे.

लादेन ये ख़बरें भारत से प्रकाशित होने वाले कुछ बड़े समाचार पत्रों के ज़रिए प्राप्त करते थे. उनके कंप्यूटर से इंडियन एक्सप्रैस में 16 नवंबर 2009 को प्रकाशित एक लेख मिला है जिसका शीर्षक था 'Omar Sheikh's Pak handler Ilyas Kashmiri also handled Headley.'

एक अन्य कंप्यूटर से श्रीलंका गार्डियन में प्रकाशित 'भारत और अमरीका में चरमपंथी हमलों का ख़तरा' शीर्षक वाला एक लेख मिला है.

इमेज स्रोत, Getty Images

भारत की समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया(पीटीआई) की 9 फरवरी 2010 में प्रकाशित एक रिपोर्ट भी लादेन के कंप्यूटर से मिली है. इस रिपोर्ट का शीर्षक था 'Al-Qaeda helping Taliban to destabilise Pakistan Government: Gates.'

इसके साथ ही 15 नवंबर 2009 को टाइम्स ऑफ इंडिया की वह रिपोर्ट भी मिली है जिसमें हेडली और हरकत-उल-जिहाद-अल-इस्लामी(हुजी) के बीच हुई कोडिंग बातचीत का ज़िक्र किया गया था.

लादेन के कंप्यूटर में पीटीआई का एक और लेख मिला है, जिसका शीर्षक था, 'India to send magistrate to US to record Headley's statement.' लादेन ने इस लेख के कुछ हिस्सों को पीले रंग से हाईलाइट भी किया है.

कश्मीर से जुड़े समाचारों पर नज़र

फाइलों के जरिए मालूम चला है कि लादेन कश्मीर से जुड़ी ख़बरों में भी रुचि रखते थे. वे कश्मीर में चलने वाले अलग-अलग चरमपंथी संगठनों से जुड़ी ख़बरें देखा करते थे.

लादेन के कंप्यूटर से इकॉनोमिक टाइम्स का 7 जनवरी 2010 में प्रकाशित वह लिखा मिला है जिसमें लिखा गया था कि अमरीका ने पाकिस्तान से इलयास कश्मीरी को खोजने के लिए कहा है.

इमेज स्रोत, AFP

फरवरी 2009 में पाकिस्तानी कश्मीरी चरमपंथी और उनका नाटो के साथ संघर्ष से जुड़ा एक लेख भी लादेन के कंप्यूटर से मिला है.

सीआईए के निदेशक माइक पोम्पेओ ने कहा, ''अल-कायदा प्रमुख की इन फाइलों के सार्वजनिक होने से आम लोगों के यह पता चल सकेगा कि कोई चरमपंथी संगठन किस तरह काम करता है.''

बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री देखते थे लादेन

सीआईए ने लगभग दो दर्जन वीडियो भी इन फाइलों के साथ जारी किए हैं. इसमें बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री 'द स्टोरी ऑफ इंडिया' भी शामिल है. इस डॉक्यूमेंट्री में बीबीसी ने भारत के इतिहास के बारे में बताया है.

इन दस्तावेजों में लादेन के निजी जर्नल(पत्रिका) भी शामिल है, जिसमें 18 हजार फाइलें और 79 हजार ऑडिया और तस्वीरें हैं. इनमें लादेन की जनसभा में बोले गए भाषण और अल-कायदा की अलग-अलग जगहों पर हुई बैठकों की तस्वीरें हैं.

एक अन्य वीडियो में अल-कायदा द्वारा अमरीका में किए गए 9/11 हमले की 10वीं बरसी को मनाने की तैयारियां भी दिखती हैं.

इमेज स्रोत, Getty Images

कौन-कौन से वीडियो देखते थे लादेन?

अल-कायदा प्रमुख लादेन एनिमेटेड फिल्मों के दीवाने थे. उनकी हार्ड ड्राइव से एंट्ज, कार्स, चिकन लिटिल और द थ्री मस्कीटर्स फिल्में मिली हैं.

उनके वीडियो संग्रह में यू-ट्यूब के भी कई वीडियो हैं. जिसमें ब्रिटेन का वाइरल वीडियो 'चार्ली बिट माय फिंगर' शामिल है. लादेन किसी को नष्ट करने वाले वीडियो भी देखते थे जैसे 'हाउ टु क्रोशे अ फ्लावर.' उनके कंप्यूटर से फाइनल फैंटेसी VII नाम का गेम भी मिला है.

इमेज स्रोत, Getty Images

लादेन के पास कुछ डॉक्यूमेंट्री फिल्में भी थी, जिसमें Where in the World is Osama bin Laden प्रमुख है. इसके अलावा नेश्नल जिओग्राफिक की कुंग फु किलर्स, इंसाइड द ग्रीन बेरेट्स और वर्ल्ड वर्स्ट वेनोम डॉक्यूमेंट्री भी शामिल हैं.

बेटे की शादी का वीडियो

सीआईए द्वारा जारी किए गए वीडियों फाइल में एक क्लिप लादेन के बेटे हमज़ा की शादी की है. माना जाता है कि यह लादेन का सबसे करीबी बेटा था और लादेन इससे सबसे अधिक प्यार करते थे.

हालांकि शादी के इस वीडियो में लादेन खुद नज़र नहीं आ रहे, लेकिन उस शादी में शामिल होने वाले लोगों को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि, ''दूल्हे के पिता, मुजाहिदीन के राजकुमार अपने बेटे की शादी से बहुत खुश हैं और उनकी खुशी सभी मुजाहिदीनों में फैल गई है.''

दस्तावेजों से यह भी पता चला है कि लादेन अफ़ग़ानिस्तान और इराक़ में अमरीका की रणनीति समझने की कोशिश करते थे. उनके पास से बॉब वुडवर्ड्स की किताब Obama's Wars के कुछ अनुवादित हिस्से मिले हैं.

सीआईए का कहना है, इन दस्तावेजों से पता चलता है कि अल-कायदा और इस्लामिक स्टेट (आईएस) के बीच वैचारिक मतभेद थे. यहां तक कि अल-कायदा के अंदर भी उसकी खुद की नीतियों पर असहमतियां रहती थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)