सीरिया सेना ने किया आईएस के आख़िरी क़िले पर क़ब्जा

  • 3 नवंबर 2017
सीरिया इमेज कॉपीरइट Getty Images

सीरियाई सेना ने तथाकथित संगठन इस्लामिक स्टेट के दैर-अल-ज़ौर शहर को अपने नियंत्रण में ले लिया है. यह शहर साल 2014 से आईएस के क़ब्जे में था.

इराक़ की सीमा के क़रीब होने की वजह से यह शहर आईएस के लिए रणनीतिक रूप से काफी अहम था.

आजकल कहां हैं इस्लामिक स्टेट के लड़ाके?

सीरिया के सरकारी टीवी चैनल ने कहा है, "शहर अब आतंकवाद से पूरी तरह मुक्त हो चुका है."

वहीं, दूसरी ख़बरों के मुताबिक़, सीरियाई सेना अपने सहयोगियों के साथ इस्लामिक स्टेट के क़ब्जे वाले अंतिम ठिकानों को वापस लेने के लिए संघर्ष कर रही है.

इससे पहले ब्रिटेन स्थित सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा था कि सरकारी बलों ने कई हफ़्तों के संघर्ष के बाद शहर को अपने नियंत्रण में ले लिया है.

आईएस से आज़ादी, पर रक्का ने क्या खोया

इस प्रांत के लगभग साढ़े तीन लाख नागरिक अपने घर छोड़ने के लिए मजबूर हुए हैं.

आख़िर क्यों अहम है दैर-अल-ज़ौर?

इयूफ़्रेट्स नदी के किनारे बसा ये शहर रक़्क़ा और इराक़ी सीमा के बीच में स्थिति है.

सरकार के नियंत्रण में जाने से पहले रक़्क़ा इस्लामिक स्टेट का हेडक्वार्टर हुआ करता था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस्लामिक स्टेट ने सीमा के दोनों ओर के क्षेत्र को इयूफ़्रेट्स प्रांत के रूप में घोषित किया था.

इस क्षेत्र को इराक़ और सीरिया के बीच लड़ाकों, हथियारों और सामान के आवागमन के लिए इस्तेमाल किया जाता था.

सीमा के दोनों तरफ फैला ये प्रांत जिहदियों के उस इरादे का प्रतीक था जिसके तहत वो पूरे इलाके में सीमाओ को मिटाना चाहते थे और 1916 को हुए साइकेस-पिकोट समझौते को खत्म करना चाहते थे.

कई अरब देश इस समझौते से ख़फा थे. बीते महीने अमरीका समर्थित सीरियाई बलों ने रक़्क़ा को आईएस से छुड़ा लिया है.

तीन साल बाद आईएस की 'राजधानी' रक़्क़ा मुक्तसीरियाई आर्मी ने सितंबर में दैर-अल-ज़ौर में आईएस का क़ब्जा ख़त्म करके 93 हज़ार लोगों को आज़ाद कराया था.

आईएस के नियंत्रण में कितना क्षेत्र?

इस्लामिक स्टेट का नियंत्रण अब दैर-अल-ज़ौर के कुछ हिस्सों तक सीमित रह गया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रूस समर्थित बल सीरियाई गवर्नमेंट फोर्सेज़ हिजबुल्लाह के लड़ाकों के साथ दैर-अल-ज़ौर के अल्बू-कमल इलाके पर नियंत्रण करने की कोशिश कर रही हैं जो कि इराक़ी सीमा पर एक अहम क्रॉसिंग है.

वहीं, कुछ इलाकों में अमरीका और रूस समर्थित बल कुछ किलोमीटर की दूरी पर मोर्चे बनाकर बैठे हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बीते कुछ दिनों में इस्लामिक स्टेट को इराक़ी सेना के हाथों भी हार का सामना करना पड़ा है.

इराक़ी सेना सीमा के दूसरी ओर से इयूफ्रेट्स नदी की ओर बढ़ रही है.

इराक़ी सेना ने आईएस के कब्जे में रहे 95 प्रतिशत हिस्से पर वापस नियंत्रण कर लिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे