पाकिस्तान में नाबालिग लड़की को नंगा कर गांव में घुमाया

  • अज़ीज़ुल्लाह ख़ान
  • बीबीसी उर्दू, पेशावर
अपनी चचेरी बहनों और मां के साथ बैठी लड़की (सबसे दाएं)- पहचान छिपाने के लिए चहरे धुंधले कर दिए गए हैं

इमेज स्रोत, QAIS JAVED

उत्तर-पश्चिम पाकिस्तान के सुदूर इलाके में हथियारबंद लोगों द्वारा 16 साल की लड़की को अर्धनग्न हालत में पूरे गांव में घुमाने का मामला सामने आया है.

पुलिस के मुताबिक इन लोगों ने अपने परिवार के 'सम्मान' को वापस हासिल करने के नाम पर ऐसा किया. स्थानीय लोगों का कहना है कि लड़की को इसलिए निशाना बनाया गया, क्योंकि उसके भाई का हमलावरों के परिवार की एक लड़की से गुप्त प्रेम प्रसंग रहा था.

घटना पिछले हफ्ते खैबर पख़्तूनख़्वा प्रांत के शहर डेरा इस्माइल खां से करीब 80 किलोमीटर दूर बसे गांव चौदवां में हुई. यह मामला गुरुवार को प्रकाश में आया जब मीडिया को इसकी भनक लगी.

पुलिस ने आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और नौवें की तलाश की जा रही है. लोगों का कहना है कि लड़की पर दिन-दहाड़े उस समय हमला किया गया, जब वह तालाब से पानी लाने जा रही थी.

लड़की ने यूं सुनाई आपबीती

लड़की ने स्थानीय पत्रकारों को बताया, "मैं और मेरी चचेरी बहनें घड़ों में पानी भरकर लौट रही थीं, तभी ये लोग हमारे पास आ गए. उन्होंने मुझे धक्का दिया और मैं गिर गई. इसके बाद उन्होंने कैंचियों से मेरे कपड़े काटे. मेरी एक बहन ने अपने दुपट्टे से मुझे ढकने की कोशिश की मगर उन्होंने वह भी छीन लिया."

इमेज स्रोत, AFP

इमेज कैप्शन,

प्रतीकात्मक तस्वीर

लड़की ने बचने की कोशिश की और बगल के एक घर में चली गई. मगर वे लोग वहां भी पहुंच गए.

"मैं एक खाट के बगल में छिपी हुई थी मगर उन्होंने मुझे वहां से खींच लिया. एक पड़ोसी ने बीच में आने की कोशिश की मगर उन्होंने उसे बंदूकों से धमका दिया."

एक घंटे तक जारी रहा सिलसिला

स्थानीय लोगों और पुलिस का कहना है कि यह घटनाक्रम एक घंटे तक जारी रहा, इसके बाद उन लोगों ने लड़की को जाने दिया.

लड़की ने कहा, "मेरे अंकल का घर पास ही थी, इसलिए मैं वहां दौड़ गई और कपड़े लिए."

लड़की ने अपनी मां और बहनों की मौजूदगी में पूरी घटना की जानकारी मीडिया को दी. उसकी मां, जो विधवा हैं, ने कहा कि जैसे ही उन्हें घटना की जानकारी मिली, वह अपनी बेटी की तलाश में निकल पड़ी थीं.

"गली में मैंने कुछ कुछ हथियारबंद लोग देखे. मैंने उनसे पूछा कि मेरी बेटी के साथ क्या किया. जवाब देने के बजाय उन्होंने मुझसे पूछा कि तुम्हारा बेटा कहां है. वे मेरा मज़ाक उड़ा रहे थे."

उन्होंने बताया कि गली में कुछ आगे जाने पर मुझे अपनी बेटी की कमीज का टुकड़ा मिला था.

इमेज स्रोत, QAIS JAVED

'भाई के कथित प्रेम प्रसंग की सज़ा बहन को'

एक स्थानीय सूत्र ने नाम न बताने की शर्त पर बीबीसी को जानकारी दी कि हमलावर परिवार तीन साल पहले हुई एक घटना के चलते लड़की के परिवार के प्रति दुर्भावना रखे हुए था.

"उस वक्त इस लड़की के भाई पर गांव के एक शख्स की बेटी को मोबाइल फोन गिफ्ट करने का आरोप लगाया था, जिसका इस्तेमाल वे दोनों अपने प्रेम प्रसंग में इस्तेमाल करते थे."

इस बात का पता चलने पर लड़की का परिवार नाराज़ हो गया था. बिरादरी ने बड़े-बुजुर्गों की बैठक बुलाई थी ताकि वे खूनखराबा होने से पहले मामले को सुलझा सकें.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

प्रतीकात्मक तस्वीर

पंचायत ने लड़के को 3 लाख रुपये का जुर्माना भरने को कहा, जो उसने भर दिया था और मामला खत्म हो गया था.

सूत्र ने कहा, "मगर अब लगता है कि लड़की का परिवार उस अपमान को नहीं भूला था और बदला लेना चाहता था."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)