ट्रंप जापान के 'पक्षपातपूर्ण व्यापारिक संबंधों' पर बरसे

  • 7 नवंबर 2017
US JAPAN TRADE इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप व्यापार को लेकर जापान पर जमकर बरसे. उन्होंने दोनों देशों के आर्थिक रिश्तों में निष्पक्षता की जरूरत बताई.

टोक्यो में सोमवार को बिज़नेस लीडर्स से बात करते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि बीते दशकों में जापान व्यापार के मामले में आगे निकला है.

उन्होंने जापान से अमरीका में कारों का ज्यादा निर्माण करने की बात कही.

अमरीकी राष्ट्रपति का ये बयान ऐसे वक्त में आया, जब वो एशिया के 12 दिनी दौरे की शुरुआत कर रहे थे. माना जा रहा है कि इस दौरे में उत्तर कोरिया और व्यापार का मुद्दा हावी रहेगा.

डोनल्ड ट्रंप ने कहा कि जापान के हाथों अमरीका कई सालों से भारी व्यापारिक घाटा झेल रहा है.

राष्ट्रपति ट्रंप ने अमरीकी और जापानी अधिकारियों के समूह से बात करते हुए कहा, "हम मुक्त और पारस्परिक व्यापार चाहते हैं, लेकिन जापान के साथ हमारा व्यापार ऐसा नहीं है. मुझे उम्मीद है जल्दी ही ऐसा होगी. इसके लिए हमने प्रक्रिया शुरू कर दी है."

हालांकि उन्होंने अमरीकी सैन्य उपकरणों की खरीद के लिए जापान की सराहना की. जापान, चीन के बाद अमरिका का दूसरा सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है.

ट्रंप ने ये भी कहा कि वो चाहते हैं कि अमरीका निवेशकों और रोज़गार देने वालों के लिए सबसे आकर्षक देश बने.

व्यापारिक संबंध

अमरीकी वित्त विभाग के मुताबिक 2016 में जापान ने अमरीका के साथ 69 बिलियन डॉलर का अतिरिक्त व्यापार किया.

क्षेत्रीय मुक्त व्यापार संधि से अमरीका के बाहर आने के बाद दोनों देशों व्यापार को लेकर नए रोडमैप पर काम कर रहे हैं.

लेकिन संधि में बरकरार 11 देश, अमरिका के बिना ही समझौते पर वार्ता के लिए आगे बढ़ रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सोमवार को जापान के प्रधानमंत्री शिंज़ो आबे और अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के बीच औपचारिक बातचीत हुई

मेड इन अमरीका

राष्ट्रपति ट्रंप ने जापान के कार निर्माताओं से अमरीका में कारों का निर्माण करने की बात कही.

लेकिन गैर लाभकारी व्यापार समूह, जापान ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के आंकड़ों के मुताबिक उनकी ज्यादातर कारों का निर्माण अमरीका में ही होता है.

संस्था के मुताबिक, 2016 में अमेरिका में बिकने वाली जापान की एक तिहाई ब्रांडेड कारें उत्तरी अमरीका में ही बनाई गईं थी.

पिछले साल करीब चालीस लाख गाड़ियों और सैंतालिस लाख इंजनों का निर्माण अमरीका में किया गया.

24 उत्पादन इकाईयों, 43 रिसर्च और डेवेलपमेंट और डिज़ाइन सेंटर के ज़रिए अमरीका में 45.6 बिलियन डॉलर का निवेश आया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए