सऊदी अरब: ये प्रिंस अलवलीद बिन तलाल कौन हैं?

  • 6 नवंबर 2017
सऊदी अरब इमेज कॉपीरइट AFP/Getty Images

सऊदी अरब में एक नई भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी ने 11 राजकुमारों समेत 4 मंत्रियों और दर्जनों पूर्व मंत्रियों को हिरासत में ले लिया है. हिरासत में लिए गए लोगों में अरबपति प्रिंस अलवलीद बिन तलाल भी शामिल हैं.

फोर्ब्स मैगज़ीन के अनुसार लंदन के सेवॉय होटल के मालिक और प्रिंस अलवलीद बिन तलाल 17 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ दुनिया में सबसे अमीर लोगों में से एक हैं.

किंगडम होल्डिंग्स इन्वेस्टमेंट कंपनी के शेयरों में प्रिंस अलवलीद बिन तलाल की गिरफ्तारी के बाद 9.9 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.

किंगडम होल्डिंग्स के मालिक प्रिंस अलवलीद बिन तलाल भी हैं. ये कंपनी सऊदी अरब की बड़ी निवेश कंपनियों में से एक है.

ट्विटर और एप्पल के अलावा, सिटी ग्रुप बैंक, फोर सीज़न्स होटलों और रूपर्ट मरडॉक की कंपनी न्यूज़ कॉर्पोरेशन में अलवलीद बिन तलाल की कंपनी ने निवेश कर रखे हैं.

सऊदी में 11 राजकुमार और कई मंत्री हिरासत में

अपने रास्ते की रुकावटें हटा रहे हैं सऊदी क्राउन प्रिंस?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मशहूर शहज़ादा

प्रिंस अलवलीद बिन तलाल अपनी कंपनियों में महिलाओं को नौकरियां देने के लिए मशहूर हैं. उनके कर्मचारियों में दो तिहाई महिलाएं हैं.

लेकिन वे रेगिस्तान में बने अपने 100 मिलियन डॉलर के सैरगाहों के लिए भी जाने जाते हैं, जहां उन्होंने छोटे कद के लोगों को नौकरी दे रखी है और जिनका काम वहां आने वाले लोगों का मनोरंजन करना होता है.

दो साल पहले, प्रिंस ने उन पायलटों को महंगी गाड़ियां देने की पेशकश की थी, जो पड़ोसी मुल्क यमन पर बमबारी में हिस्सा ले रहे थे.

कुछ साल पहले, उन्होंने डोनल्ड ट्रंप से एक लक्जरी यॉट और एक होटल खरीदा था. उस समय डोनल्ड ट्रंप राजनीति में नहीं आए थे.

वो मुस्कुरा कर बोला, "हमारा देश बदल रहा है"

सऊदी अरब में महिलाओं को मिली एक और आज़ादी

इमेज कॉपीरइट GREGORY BOISSY/AFP/Getty Images

ट्रंप से विवाद

अलवलीद का कहना था, "आप ना केवल रिपब्लिकन नेशनल कमिटी के लिए बल्कि पूरे अमरीका के लिए अपमान के समान हैं. आप राष्ट्रपति पद की दौड़ से अपना नाम वापस ले लें क्योंकि आप कभी जीत नहीं सकेंगे."

इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, "झूठे राजकुमार अपने पिता के पैसों से हमारे अमरीकी राजनेताओं को अपने काबू में करना चाहते हैं. लेकिन मैं राष्ट्रपति बन गया तो ऐसा नहीं होगा."

लेकिन बाद में जब डोनल्ड ट्रंप को संयुक्त राज्य अमरीका का राष्ट्रपति चुना गया तो प्रिंस ने उन्हें ट्वीट के जरिये बधाई भी दी, "अतीत में हम दोनों के बीच जो भी मतभेद रहे हों, अमरीका ने फैसला दे दिया है. ट्रंप को राष्ट्रपति पद के लिए शुभकामनाएं और बधाई."

रोबोट सोफ़िया सऊदी अरब की नागरिक है...

क्या सऊदी अरब में मौलवियों का असर होगा कम?

इमेज कॉपीरइट FAYEZ NURELDINE/AFP/Getty Images

हैरत में सऊदी लोग

सऊदी अरब में शनीचर की रात की घटनाएं मुल्क में किसी भूचाल से कम नहीं हैं.

32 वर्षीय क्राउन प्रिंस सलमान ने एक सोचे समझे मंसूबे के तहत मुल्क पर अपनी पकड़ को मजबूत करने के लिए सामने मौजूद आखिरी रुकावट पार कर ली है.

शहजादों, वजीरों और अरबपति कारोबारियों और प्रिंस अलवलीद बिन तलाल की गिरफ्तारी जैसे कदम भले ही दुनिया को भ्रष्टाचार के खिलाफ एक अभियान के रूप में दिखाए जाएं, लेकिन इन घटनाओं से सऊदी लोग आश्चर्यचकित हैं. उन्हें अचानक बदलाव देखने के आदत नहीं रही है.

तेल से घटती कमाई के बीच सऊदी अरब का नया शहर

यमन सीमा पर हेलिकॉप्टर क्रैश में सऊदी प्रिंस की मौत

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए