अफ़ग़ानिस्तान: काबुल में टीवी स्टेशन पर हमला, आईएस ने किया दावा

  • 7 नवंबर 2017
अफ़ग़ानिस्तान इमेज कॉपीरइट Reuters

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए हमले के बाद शमशाद टेलीविज़न का प्रसारण फिर शुरू हो गया है.

इसी न्यूज़ चैनल की इमारत पर कम से कम तीन बंदूकधारियों ने मंगलवार सुबह को हमला बोल दिया था. जिसके बाद टेलीविज़न चैनल का प्रसारण बंद हो गया था.

शमशाद चैनल ने अपने प्रसारण में कहा कि हमला खत्म हो गया है. सुरक्षा बलों ने कम से कम एक बंदूकधारी को मार दिया है. हमले में कम से कम 10 लोग मारे गए हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

ख़बर है कि शमशाद टीवी के दो स्टाफ़ मारे गए हैं और तकरीबन 20 लोगों का अस्पताल में इलाज किया जा रहा है.

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने हमले की जिम्मेदारी लेने का दावा किया है.

चश्मदीदों ने कहा कि हमलावर शमशाद टीवी के मुख्यालय में ग्रेनेड फेंकते हुए दाखिल हुए और फिर अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दी.

Image caption शमशाद टीवी पर जारी प्रोग्राम बंद रुक गया था

हमले से बचकर बाहर निकले टीवी चैनल के एक रिपोर्टर ने सुबह में बीबीसी से कहा था, ''मेरे कई सहकर्मी मारे गए हैं और कई ज़ख्मी हुए हैं. मैं किसी तरह से भागने में कामयाब रहा.''

टीवी स्टेशन के मुख्यालय में 100 से ज़्यादा कर्मचारियों के होने की बात कही जा रही थी. हालांकि हमले के बाद बिल्डिंग खाली करा लिया गया.

इमेज कॉपीरइट EPA

पुलिस का कहना है कि हमलावरों समेत कई लोग मारे गए हैं. काबुल पुलिस के प्रवक्ता का कहना है कि पुलिस बलों की गोली से एक हमलावर मारा गया है.

हाल के महीनों में तालिबान ने काबुल में कई हमले किए हैं.

इन हमलों की ज़िम्मेदारी कथित इस्लामिक स्टेट भी लेता रहा है. मीडिया कर्मियों और पत्रकारों के लिए अफ़ग़ानिस्तान दुनिया के ख़तरनाक देशों में से एक है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे