यरुशलम को इसराइल की राजधानी नहीं मानेंगे: यूरोपीय संघ

  • 12 दिसंबर 2017
इसराइली प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू और यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रमुख फ़ेडरिका मोगेरिनी इमेज कॉपीरइट Reuters

यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रमुख फ़ेडरिका मोगेरिनी ने कहा है कि जब तक अंतिम रूप से शांति समझौता नहीं हो जाता, तब तक उसके सदस्य यरुशलम को इसराइल की राजधानी नहीं मानेंगे.

'3000 साल से इसराइल की राजधानी है यरूशलम'

क्या कब्ज़े वाला पूर्वी यरुशलम फ़लस्तीनियों की राजधानी बनेगा?

यूरोपीय संघ की विदेश नीति के प्रमुख ने बात इसराइली प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू से मुलाक़ात के बाद कही है. नेतन्याहू चाहते हैं कि यूरोपीय संघ इस मामले में अमरीकी रुख़ पर अमल करे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फ़ेडरिका मोगेरिनी ने ब्रसेल्स में नेतन्याहू के साथ मुलाक़ात के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यूरोपीय संघ 'यरुशलम पर अंतरराष्ट्रीय सहमति' को मान्यता देना जारी रखेगा.

उन्होंने कहा, ''दोनों पक्षों के बीच सीधे बातचीत के ज़रिए अंतिम सहमति बनने तक यूरोपीय संघ और उसके सदस्य अंतरराष्ट्रीय सहमति का सम्मान करते रहेंगे.''

अमरीकी मान्यता एक 'वास्तविकता'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हालांकि इसराइली प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने कहा कि यरुशलम को इसराइली राजधानी के तौर पर अमरीका की मान्यता एक 'वास्तविकता' है.

अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने यरुशलम को जबसे इसराइल की राजधानी के तौर पर मान्यता दी है, तभी से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसकी आलोचना हो रही है.

अमरीका ने यरूशलम में हिंसा का दोष यूएन पर डाला

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption गज़ा पट्टी में विरोध प्रदर्शन

अमरीकी राष्ट्रपति के फ़ैसले के विरोध में मध्य-पूर्व के कई देशों में विरोध प्रदर्शन जारी हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption पाकिस्तान में भी विरोध प्रदर्शन हुए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए