बाली की जेल से ऐसे भागा अमरीकी क़ैदी

  • 12 दिसंबर 2017
इंडोनेशिया इमेज कॉपीरइट AFP

इंडोनेशिया के ख़ूबसूरत द्वीप बाली में सुरक्षा व्यवस्था को ठेंगा दिखाते हुए एक कैदी बॉलीवुड की फिल्मों की तरह जेल से भाग निकला.

यह क़ैदी अमरीका का रहने वाला है, जिसे ड्रग्स रखने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था.

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, क़ैदी का नाम क्रिशन बेसली है, जिसे अगस्त में पकड़ा गया था.

32 साल के इस क़ैदी का एक अन्य अमरीकी क़ैदी ने साथ दिया था.

उत्तर कोरिया में क्यों लग रहे हैं झटके?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इससे पहले क़ैदी सुरंग बना कर भागे थे

सीढ़ी का सहारा

इस अमरीकी क़ैदी ने भी बेसले के साथ छलांग लगाई थी, जिन्हें भागने के कुछ देर बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया.

दीवार फांदने में उन दोनों ने सीढ़ी का सहारा लिया था, जिसका इस्तेमाल जेल के अंदर चल रहे निर्माण कार्यों में किया जा रहा था.

ख़बरों के मुताबिक, दोनों ने पहले छत काटने की कोशिश की थी. बेसले के साथ भागने वाले दूसरे क़ैदी का नाम पॉल एंथनी हॉफ़मैन है.

57 साल के एंथनी हथियारों की डकैती के लिए 20 महीने की सजा काट रहे थे. एंथनी तो पकड़े गए लेकिन बेसले भागने में सफल रहे.

न्यूयॉर्क में हमले की कोशिश, बांग्लादेशी को पकड़ा

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सख़्त क़ानून

इंडोनेशिया में ड्रग्स के ख़िलाफ सख़्त क़ानून हैं. ड्रग्स से जुड़े आरोपों में यहां अक्सर विदेशी गिरफ़्तार किए जाते हैं. ड्रग्स तस्करी के लिए यहां अधिकतम मौत की सज़ा का प्रावधान है.

भागे हुए क़ैदी बेसले की सजा का फैसला अभी नहीं हुआ था.

इससे पहले जून में भी केरोबोकन जेलब्रेक की ख़बर मिली थी, जब चार क़ैदी जेल की दीवार में सुरंग बनाकर भाग निकले थे.

केरोबोकन जेल में ऑस्ट्रेलियन तस्करों का कथित समूह बाली नाइन क़ैद है. ऑस्ट्रेलिया के अधिकारियों के विरोध के बावजूद समूह के दो लोगों को 2015 में सजा-ए-मौत दी गई थी.

समूह के अन्य दोषी इंडोनेशिया के विभिन्न जेलों में क़ैद हैं.

सऊदी अरब में अब दिखेगा सिनेमा

इटली का वो गांव जहां अनुष्का के हुए विराट

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे