'सऊदी अरब पर दागी गई मिसाइल मेड-इन-ईरान थी'

  • 20 दिसंबर 2017
मिसाइल इमेज कॉपीरइट Reuters

सऊदी अरब और अमरीका ने मंगलवार को रियाद पर दागी गई हूथी विद्रोहियों की मिसाइल के लिए ईरान को जिम्मेदार बताया है.

उनका कहना है कि हूथी विद्रोहियों को ये मिसाइल ईरान से मिली थी लेकिन तेहरान ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है.

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, "ईरान ने यमन को कोई हथियार मुहैया नहीं कराया है. यमन में लगी नाकाबंदी को देखते हुए इसकी संभावना ही नहीं है."

सऊदी की सेना के मुताबिक मिसाइल रियाद के दक्षिणी हिस्से में दागी गई थी. हालांकि किसी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है.

हूथियों ने कहा था कि उन्होंने रियाद के यमामा महल को निशाना बनाया था, जहां सऊदी के शीर्ष नेताओं की एक बैठक होने वाली थी.

यमन के अखाड़े में ईरान और सऊदी का मुक़ाबला

सऊदी अरब और ईरान के बीच अगर युद्ध हुआ तो क्या होगा?

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
यमन में कौन किसके ख़िलाफ़ लड़ रहा है?

अमरीका और ब्रिटेन

हूथी विद्रोहियों ने यमन के राष्ट्रपति अब्द रब्बू मंसूर हादी के खिलाफ युद्ध छेड़ रखा है.

यमन के राष्ट्रपति को मार्च 2015 से सऊदी के नेतृत्व वाले गठबंधन का साथ मिला हुआ है.

इस गठबंधन को अमरिका और ब्रिटेन से सैन्य और खुफिया सहायता मिल रही है.

मंगलवार को हूथी विद्रोहियों ने एलान किया कि यमन के लोगों के खिलाफ अमरिका-सऊदी गठबंधन के अत्याचारों के जवाब में रियाद के यमामा महल पर बुरकान एच2 मिसाइल दागी गई है.

हालांकि गठबंधन का कहना है कि मिसाइल का निशाना रियाद के नागरिक और रिहाइशी इलाके थे.

'यमन में विद्रोहियों को मिसाइल दे रहा है ईरान'

सऊदी अरब और ईरान क्यों हैं दुश्मन?

इमेज कॉपीरइट AFP

मेड इन ईरान

संयुक्त राष्ट्र में अमरीका की स्थायी प्रतिनिधि निकी हेली ने कहा, "हम सभी को मिलकर ईरान के गुनाहों का पर्दाफाश करना ही होगा और ये संदेश उस तक पहुंचाने के लिए हमें हर तरीका अपनाना होगा. अगर हम ऐसा नहीं करते, तो ईरान पूरी दुनिया को क्षेत्रीय संघर्ष में झोक देगा."

निकी हेली ने रिपोर्टरों को बीते महीने रियाद एयरपोर्ट के पास गिरी एक बैलिस्टिक मिसाइल के अवशेष भी दिखाए थे. उन्होंने कहा था, "इन पर मेड इन ईरान के स्टीकर लगे थे." उन्होंने ये भी कहा कि ईरान संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का उल्लंघन कर रहा है.

यमन के मुद्दे पर सऊदी अरब-ईरान में घमासान

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए