'हूथी विद्रोहियों ने दागी थीं सऊदी पर 83 बैलिस्टिक मिसाइलें'

  • 21 दिसंबर 2017
हूथी विद्रोही इमेज कॉपीरइट Getty Images

यमन के हूथी विद्रोहियों ने मंगलवार को सऊदी अरब की राजधानी रियाद पर एक मिसाइल दागी थी, जिसे निशाने पर पहुंचने से पहले ही हवा में मार गिराया गया.

मिसाइल के निशाने पर सऊदी अरब का यमामा महल था, जहां किंग सलमान बजट पेश करने वाले थे. लेकिन ये पहली बार नहीं है जब हूथी विद्रोहियों ने सऊदी अरब पर मिसाइल से हमला किया.

सऊदी नेतृत्व वाले अरब गठबंधन के प्रवक्ता कर्नल तुर्की बिन बिन सालेह अल-मलिकी ने कहा है, "हूथी-ईरानी लड़ाके, सऊदी को निशाना बनाकर 83 बैलिस्टिक मिसाइलें दाग चुके हैं." गठबंधन के प्रवक्ता ने यमन में सऊदी के राजदूत मोहम्मद अल जाबेर के साथ एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये जानकारी दी.

सऊदी अरब ने स्कड मिसाइल को 'मार गिराया'

'सऊदी अरब पर दागी गई मिसाइल मेड-इन-ईरान थी'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

यमन में हूथी विद्रोही

सालेह अल-मलिकी ने कहा कि हूथी विद्रोहियों के मिसाइल हमलों के बावजूद सऊदी का सकारात्मक रवैया स्वागत योग्य है.

उन्होंने कहा, "हूथियों की मिसाइल के जवाब में गठबंधन सेना ने विद्रोहियों के मुख्यालय को निशाना बनाकर तबाह कर दिया. अब तक 11 हज़ार से ज्यादा हूथी विद्रोहियों को मार गिराया जा चुका है. गठबंधन सेनाओं ने यमन में हूथी विद्रोहियों के ठिकानों पर हवाई छापे मारे और तोप से हमले किए. ये हमले चरमपंथी ठिकानों के बारे में सटीक जानकारी जुटाने के बाद किए गए."

सालेह अल-मलिकी के मुताबिक यमन के 85 फीसदी क्षेत्र पर यमन की अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त सरकार की सेना का नियंत्रण है.

सऊदी के नेतृत्व वाले गठबंधन के प्रवक्ता ने यमन में ताज़ा सैन्य प्रगति के बारे में कहा, "बिहान शहर को हूथी विद्रोहियों से पूरी तरह आज़ाद करा लिया गया था. फिलहाल पश्चिमी प्रांत शाबवा के कुछ इलाकों से हूथियों को खदेड़ने के लिए अभियान चलाया जा रहा है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे