पति- पत्नी के बीच 'वो' का क्या है चीनी इलाज?

  • 23 दिसंबर 2017
चीनी महिला इमेज कॉपीरइट Alamy

चीन में एक नया और आश्चर्यचकित कर देने वाला व्यवसाय फल फूल रहा है जो प्यार में धोखा खाए पति-पत्नियों को उनके लवर यानी प्रेमी या प्रेमिका से अलग करने के लिए काम करता है.

इसे कहा जा रहा है 'लवर फेडिंग' यानी लवर को दूर भगाना. यहां कई लोग अपनी ज़िंदगी से अपने कथित दुश्मन को निकाल कर फेंकने के लिए हज़ारों डॉलर खर्च करने के लिए तैयार हैं.

काली लेस वाली ड्रेस और आंखों पर बड़े-बड़े सनग्लासेस लगाए अधेड़ उम्र की एक महिला को कम उजाले में काम कर रहे एक ऐसे ही दफ़्तर में ले जाया गया.

कोई नहीं चाहता कि वहां पर कोई उनका नाम ले और इसीलिए मैं इन्हें मिसेज एक्स कहूंगा. एक क्लाइंट के तौर पर वो अपने अनुभव बताने के लिए तैयार हैं. वो शांघाई के सबसे जानेमाने लव अस्पताल पहुंची हैं जहां महिलाएँ और पुरुष अपने साथी के लवर से छुटकारा पाने पहुंचते हैं.

उत्तर कोरिया में दो क़ैदियों की प्रेम कहानी

एक पारसी पुजारी और हिन्दू लड़की की प्रेम कहानी

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'पति को तलाक नहीं देना चाहती'

अपनी धीमी और कांपती आवाज़ में वो मुझे बताती हैं कि उनके और उनके पति के बीच संबंध अब बेहतर हैं और पहले के मुक़ाबले काफ़ी मज़बूत हो गया है.

वो लगातार नीचे देख रही हैं. वो कहती हैं, "मैं सोचती थी कि ये बस एक शादी ही है, लेकिन अब मैं देख सकती हूं कि ये एक बेहतर ज़िंदगी है, मेरा जीवन है."

वो बताती हैं कि उन्होंने कई सप्ताह तक मैराइटल थेरपी ली है और इस दौरान सकारात्मक सोच बनाने के बारे में सीखा है और इसके बारे में भी जानना है कि कैसे एक बेहतर और मेहनती पत्नी बना जा सकता है.

अस्पताल की सह-संस्थापक मिंग ली मदद मांगने वाली महिलाओं को सफल शादी के राज़ और अपने पति का ध्यान नहीं भटकने देने के लिए क्या करना चाहिए इस बारे में सलाह देती हैं. वो कहती हैं कि उनसे मदद मांगने वालों में महिलाएं अधिक होती हैं.

मिसेज एक्स कहती हैं, "जब मुझे उनकी प्रेमिका के बारे में पता चला तो मैंने उनका सामना किया और उनसे पूछा."

"हम कई बार झगड़े और मैंने उनसे पूछा कि मैंने इतने साल आपका साथ क्यों दिया? पहले तो उन्होंने कहा कि उन्हें इसका पछतावा है लेकिन कई बार मुझसे झगड़ा करने के बाद वो मुझसे बात ही नहीं करना चाहते थे और इसके बाद मुझे लगा कि मुझे मदद की ज़रूरत है."

प्रेमी को मुग़ल तख़्त पर बिठाने वाली पुर्तगाली महिला

प्यार-परीक्षा-बेचैनी, कहीं आप शिकार तो नहीं?

Image caption लव अस्पताल की सह-संस्थापक मिंग ली

मिसेज एक्स ने फ़ैसला किया कि वो अपने पति की प्रेमिका को उनसे दूर करने के लिए पैसे देंगी. इसका मतलब था कि किसी एजेंट को अपने पति की 24 साल सेक्रेटरी के पास भेजना और उन्हें बताना कि अपने से दोगुने उम्र के किसी पुरुष की बजाय उन्हें जीवन में बेहतरी की उम्मीद करनी चाहिए.

इस इलाज के चक्कर में मिसेज एक्स के हज़ारों डॉलर खर्च हो गए, लेकिन उन्हें लगता है कि पति को तलाक़ देने से बेहतर यही था कि अपनी ज़िदगी संवारी जाए.

वो कहती हैं, "हम लोगों ने साथ में मुश्किल वक़्त का सामना किया है. मैं इतनी जल्दी हार नहीं मान सकती और मैंने अलग रहने के बारे में कभी नहीं सोचा. मैं अलग रहने को सही नहीं मानती और ये भी देखें कि मैं जल्द 50 साल की हो जाऊंगी. मेरे जैसी महिला के लिए घर से निकल कर काम करना आसान नहीं."

मिंग ली और लव अस्पताल के दूसरे सह-संस्थापक शू ज़िन बीते 17 सालों से ये ख़ास अस्पताल चला रहे हैं. वो कहते हैं कि अब तक उनके पास दस लाख से अधिक लोग मदद के लिए आ चुके हैं.

दोनों मिल कर पुरुषों और महिलाओं की बेहतर वैवाहिक जीवन के लिए सभी संभावनाओं के बारे में बताते हैं और बताते हैं कि उनके पास सीक्रेट हथियार है जिससे उनके पास मदद के लिए आए व्यक्ति के साथी से 'प्यार करने वाले' अलग किया जा सके.

'उसे मेरे तेज़ाब से झुलसे चेहरे से प्यार हो गया...'

युवती ने पूर्व प्रेमी पर फेंका तेज़ाब, हुई मौत

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption शू ज़िन कहते हैं कि उनके लव अस्पताल में अब तक दस लाख से अधिक लोग मदद मांगने आ चुके हैं

कंपनी के सीक्रेट

मिंग ली और शू ज़िन बताते हैं, "हमारे पास एक चीनी प्रेमिका को अलग करने के 33 रास्ते हैं."

वो कहते हैं, किसी भी शादी में हर तरह की समस्याएं आती हैं और उसमें से एक है जब साथी वैवाहिक रिश्ते से बाहर संबंध तलाश करते हैं. ये गंभीर मसला है और परिवार और समाज दोनों के लिए ही ठीक नहीं है."

वो मुझे चार मुख्य तरीकों के बारे में बताते हैं जिनमें से कुछ किसी तरह की चाल की तरह सुनाई देते हैं- साथी के प्रेमी को इस बात के लिए राज़ी करना कि वो किसी और से प्रेम करे, पति के बॉस को राज़ी करना कि वो किसी अन्य शहर में उनका ट्रांसफर कर दें, अपने माता-पिता या दोस्तों को शामिल कर के स्थिति में सुधार करना या अपने पति के चरित्र के बारे में गंदी बातें या वंशानुगत बिमारी बता कर उनकी प्रेमिका को उनसे नफ़रत करने के लिए बाध्य करना.

मैंने पूछा कि अभी लवर को दूर करने के 29 रास्ते बाक़ी हैं.

शू ज़िन कहते हैं, "हां हैं, लेकिन वो कंपनी के सीक्रेट हैं. हम मी़डिया के सामने इन रास्तों के बारे में कुछ नहीं बता सकते."

‘मैं विकलांग हूँ पर सेक्स मेरी भी ज़रूरत है’

क्या ये सब क़ानूनी है?

इमेज कॉपीरइट Alamy

चीनी मीडिया में बलात्कार, घूस लेने और हिंसा की धमकी देने से संबंधित ख़बरें रोज़ ही आती रहती हैं, लेकिन लव अस्पताल का कहना है कि वो कभी किसी ऐसे मामले में शामिल नहीं होता जो ग़ैरक़ानूनी हो.

लेकिन इसी तरह ही प्रेमी को दूर भगाने से संबंधित सेवाएं मुहैया करने वाल एक अन्य कंपनी के मालिक डेई पेन्ग जुन ऐसे मामलों के बारे में खुल कर बोलते हैं. वो शांघाई में एक प्राइवेट डिटेक्टिव एजेंसी चलाते हैं.

डेई पेन्ग-जुन अंडरकवर एजेंट्स की एक पूरी टीम चलाते हैं जो पूरे देश में घूम कर ऐसी महिलाओं की मदद करते हैं जो अपने पति से उनकी प्रेमिका को दूर करना चाहती हैं.

वो कहते हैं, "लवर को दूर भगाने के कुछ ख़ास तरीके होते हैं. हम उनके साथ दोस्ती करते हैं और उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें लेते हैं. फिर हम उसे हमारे पास मदद मांगने आई महिला को देते हैं."

"जब पति को पता चलता है कि उनका प्रेमिका उनके प्रति वफादार नहीं है को अधिकतर मामलों में वो अपनी पत्नी और परिवार के पास लौट आते हैं."

जब समलैंगिकों ने बना ली थी अपनी भाषा

14 की उम्र में सेक्स के लिए सहमति कितना सही?

'ये पब्लिक सेवा है'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

डेई कहते हैं कि ये एक महत्वपूर्ण पब्लिक सेवा है क्योंकि चीन के अधिकतक धनी पुरुष सोचते हैं कि पत्नी के अलावा उन्हें एक मिस्ट्रेस भी रखनी चीहिए. वो ऐसा करना सामान्य मानते हैं.

प्राचीन समय से चीन में संपन्न पुरुष पत्नी के अलावा मिस्ट्रेस रखना सामान्य बात मानते थे. माओ के नेतृत्व में इस परंपरा को ग़लत और ग़ैरकानूनी क़रार दिया गया और महिलाओं के लिए शादी के क़ानून समेत अन्य क़ानूनों में समान अधिकारों की बात की गई.

लेकिन 1976 में माओ की मौत के बाद आर्थिक सुधारों के बाद कई लोगों के पास काफ़ी पैसा जमा हो गया था और वो धनी और ताक़तवर बन गए थे. इनमें कई चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता भी थे. धीरे-धीरे ये लोग पुरानी परंपराओं की तरफ़ लौटने लगे.

सरकारी मीडिया में प्रकाशित एक ख़बर के अनुसार मौजूद राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व में चलाए गए भ्रष्टाचार रोधी अभियान के तहत जितने अधिकारियों को दोषी पाया गया उनमें से 95 फीसदी अधिकारियों की एक या एक से अधिक लवर थीं.

तीन साल पहले चीनी कम्यूनिस्ट पार्टी के सरकारी अख़बार ने 'व्यभिचार का चित्र' छपा था जिनमें उनमें उन जगहों को चिन्हित किया गया था जहां अधिक संख्या में महिलाएं हैं.

सीमा पर 'ऐतिहासिक' शादी रचाने वाला निकला तस्कर

शादी परम्परागत, गिफ़्ट में बिटक्वाइन

इमेज कॉपीरइट THE PEOPLE'S DAILY
Image caption 'द पीपल्स डेली' के अनुसार इस चित्र में उन जगहों को दिखाया गया है जहां पुरुषों के एक से अधिक महिलाओं के साथ संबंध रखने के अधिक मामले पाए गए हैं

'महिलाओं का आकर्षित करना एक तरीका'

डेई पेन्ग-जुन ने मुझ अपने एक एजेंट से मिलवाया जो कि महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित करने में माहिर हैं. वो ऐसा करने के लिए शांत स्वभाव रखते हैं और अपनी भारी आवाज़ से काम लेते हैं.

वो अपने तरीके को ठीक वैसे ही समझाते हैं जैसे कोई डॉक्टर ऑपरेशन के तरीके के बारे में विस्तार से बताता है. इनका नाम भी डेई है. डेई कहते हैं, "मैं खुद को चारे की तरह इस्तेमाल करता हूं. जानकारों समेत मेरी पूरी टीम मेरी मदद करने के लिए तैयार होती हैं."

"मुझे हर तरह से समझाना होता है कि कैसे किसी महिला को आकर्षित किया जाता है और उनकी ज़रूरतों को कैसे पूरा किया जा सकता है."

वो कहते हैं, "उदाहरण के तौर पर अगर आपको एक शानदार जीवनशैली चाहिए, महंगी चीज़ें और तोहफ़े चाहिए, अच्छे रेस्टोरेंट में जाना आपको अच्छा लगता है तो हम उन्हें ख़ुश कर देते हैं. अधिकतर लवर्स अपने प्रेमी से पैसा या तोहफ़े ही चाहते हैं."

वो समझाते हैं कि ऐसा लगता है कि 90 फ़ीसदी समस्याओं का समाधान पैसा खर्च करने भर से हो जाता है और ऐसा कर के डेई उस महिला के और क़रीब हो जाते हैं. और इसके बाद वो महिला के साथ वक़्त बिताते हैं और आपत्तिजनक अवस्था में उनकी तस्वीरें लेने के बाद वहां से चले जाते हैं. उनका मिशन कंप्लीट हो जाता है.

मैं सोच रहा हूं कि वो किसी महिला को धोखा देकर अपनी जीविका कैसे चला सकते हैं.

वो कहते हैं, "हम लोग सभी ज़रूरी क़दम उठाते हैं. हम क़ानूनी तौर पर एक दंपती के हक़ों का प्रतिनिधित्व करते हैं और हमें जो काम करने के लिए हमारे क्लाइंट कहते हैं हम वही करते हैं. लवर तो वो लोग हैं जो समाज के मानको तो तोड़ते हैं."

ब्लॉग: शादी के बाहर इश्क़ पर किसे हो जेल?

जब एक समलैंगिक एमपी ने संसद में शादी के लिए प्रपोज किया

समाज के ताने-बाने में ही इसका कारण

इस बात का अंदाज़ा लगना बेहद मुश्किल है कि चीन में इस काम कितने लोग लगे हुए हैं. 17 सालों से इसी क्षेत्र में काम कर रहे लव अस्पताल का कहना है कि वो अब तक 10 लाख से अधिक मामलों पर काम कर चुके हैं और उम्मीद करते हैं कि वो जल्दी ही शंघाई स्टॉक एक्सचेंज में भी दिखेंगे.

लेखक और सामाजिक मुद्दों पर काम करने वाली ज़ांग लिजिया मानती हैं कि इस बात को समझने के लिए कुछ हद तक चीन के तलाक़ संबंधी क़नूनों को समझना मददगार होगा.

साल 2011 के बाद से तलाक़ लेने वाले किसी भी धनी व्यक्ति के लिए ये ज़रूरी नहीं था कि वो अपनी पत्नी को संपत्ति में हिस्सा दें. ख़ास कर गांव में बसने वाले परिवारों के मामलों में अदालत एकमात्र बच्चे की कस्टडी भी पिता के परिवार को ही सौंपती थी.

ज़ांग कहती हैं, "तलाक़ के क़ानून महिलाओं को रुलाने और पुरुषों की खुशी के लिए बनाए गए थे. शहर के बाहरी इलाक़ों में तलाक़ लेना महिला के लिए अपमानजनक माना जाता था."

इज़्ज़त बचाने के नाम पर हक़ छीनने की साज़िश

मिसेज एक्स को लगता है कि पति की प्रेमिका को उनसे दूर करना ही सबसे एकमात्र और बेहतर उपाय था लेकिन जो पैसा उन्होंने इस काम में खर्च किया उसे ख़ुद पर खर्च करने के लिए वो पूरी तरह से हक़दार थीं.

मुझे आश्चर्य होता है कि क्या वो वाकई अपने पति से प्यार करती हैं या ये बस एक समझौता है. ये इतना स्वाभाविक नहीं लगता कि प्रेमिका को डरा कर भगाने के बाद उसकी जगह कोई और भर दे.

मिसेज एक्स कहती हैं, "निश्चय ही मैं अब भी उनसे बेहद प्यार करती हूं और अब मैं जानती हूं कि हमारी शादी में मुश्किलें कहां हैं और मैं उनसे निपटना भी जानती हूं."

उनकी इस उम्मीद को झुठला देना काफ़ी मुश्किल है और लव अस्पताल के पास ऐसी कोई वजह नहीं कि वो उन्हें नाउम्मीद करे. अस्पताल की सह-संस्थापक मिंग ली कहती हैं कि उनके क़ाबिल निरीक्षण में मुश्किलें दूर होंगी.

वो कहती हैं "एक प्रेमिका ट्यूमर की तरह होती है और पहली चीज़ जो करनी चाहिए वो है उससे छुटकारा पाना. इसके बाद दंपती का रिश्ते स्वस्थ और मज़बूत हो जाता है. ये गाड़ी चलाना सीखने के जैसा है."

"यहां ड्राइविंग लाइसेंस पाना मुश्किल है लेकिन शादी आप 18 साल की उम्र में कर सकते हैं. हम आपको बताते हैं कि सही और सुरक्षित रास्ते पर कैसे चलें."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए