बांग्लादेशी सीमा में कैसे घुसे भारतीय सैनिक?

  • 26 दिसंबर 2017
बांग्लादेश, भारत, बीएसएफ इमेज कॉपीरइट BSF
Image caption सीमा की सुरक्षा करता बीएसएफ का जवान (फाइल फाटो)

बांग्लादेश की सीमा में दाखिल हुए भारतीय सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों को सोमवार सुबह गिरफ्तारी के कुछ देर बाद छोड़ दिया गया.

तीन भारतीय सैनिक बांग्लोदशी सीमा के एक किलोमीटर अंदर राजशाही क्षेत्र में घुस गए थे.

बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के अधिकारियों ने कहा कि भारतीय सैनिक सोमवार सुबह गलती से बांग्लादेश आ गए थे.

पद्मा नदी भारत और बांग्लादेश की सीमा को विभाजित करती है. बीजीबी अधिकारियों ने कहा है कि कहीं-कहीं पर दोनों देशों की सीमाएं लगभग मिली हुई हैं.

राजशाही के शालबगान क्षेत्र में बटालियन कमांडर लेफ्टिनेंट करनल शमीम मसूद अल इफ़्तेकार ने बीबीसी बांग्ला को बताया, ''जिस जगह पर भारतीय सैनिकों ने प्रवेश किया था वह चर क्षेत्र है. यहां सीमा पर कई खंबे बने हुए हैं जो पानी में छुप जाते हैं. यहां पर तारें नहीं लगी हैं. यह सीमा के आस-पास रात को तस्करों को पकड़ने की कोशिश में हुई गलती है.''

बीजीबी के गार्ड्स ने सीमा क्षेत्र में भारतीय सैनिकों को पकड़ लिया था. फिर करीब छह घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें दोपहर करीब डेढ़ बजे बीएसएफ को सौंप दिया गया.

भारतीय सैनिकों ने बीजीबी अधिकारियों को बताया कि वह धुंध के चलते बांग्लादेश के सीमा में प्रवेश कर गए थे.

कैसे पकड़े गए?

बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश के सूबेदार नायक शफ़ीक-उल इस्लाम ने बीबीसी को बताया कि इसकी जानकारी स्थानीय लोगों से मिली. वो बताते हैं, ''स्थानीय लोगों ने फोन करके बताया कि भारतीय सैनिक बांग्लादेशी सीमा के अंदर घुस आए हैं. तब 16 गार्ड्स की टीम के साथ भारतीय सैनिकों को पकड़ा गया.

  • जब मैं पेट्रोल टीम के पास गया तो मैंने देखा कि वो बांग्लादेश की तरफ भाग रहे हैं. इसके बाद उन्हें घेरकर रोका गया और ​आत्मसमर्पण करने के लिए बोला गया. जब उन्होंने आत्मसमर्पण कर दिया तो उनसे हथियार लेकर उन्हें शिविर में लाया गया.''

सूबेदार इस्लाम ने कहा कि वे नहीं जानते कि सैनिक बांग्लादेश में कब घुसे लेकिन उन्हें सुबह करीब साढ़े सात बजे गिरफ्तार किया गया.

बांग्लादेशी सीमा में इतनी अंदर कैसे घुसे सैनिक?

सूबेदार ने बताया कि तीन सैनिकों के पास हथियार थे.

बीजीबी के अधिकारियों ने बताया कि भारतीय सैनिक बांग्लादेश की सीमा के अंदर प्रवेश कर गए थे. वह धुंध के कारण रास्ता भटक गए और सीमा के अंदर आ गए.

बीएसएफ के जवानों को गिरफ्तार करने के बाद सूबेदार इस्लाम जानना चाहते थे कि वो अगर धुंध के कारण रास्ता भटक गए थे तो बांग्लादेश में इतने अंदर तक कैसे आ गए.

भारतीय सैनिकों ने आगे कोई जवाब नहीं दिया. उन्होंने इतना बताया कि वह गलत रास्ते पर आ गए थे.

लेफ्टिनेंट कर्नल शमीम मसूद ने कहा कि दोनों देशों की फ्लैग मीटिंग के बाद बीएसएफ ने इस गलती पर खेद जताया.

जिन तीन भारतीय सैनिकों को पकड़ा गया था, उनमें एक एएसआई और दो सिपाही हैं.

न्यूयॉर्क में हमले की कोशिश, बांग्लादेशी को पकड़ा

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे