सऊदी अरबः प्रदर्शन करने वाले 11 राजकुमार गिरफ़्तार

  • 7 जनवरी 2018
रियाद इमेज कॉपीरइट AFP

सऊदी अरब में उन 11 राजकुमारों को गिरफ़्तार कर लिया गया है जिन्होंने शाही महल के बाहर प्रदर्शन किया था.

ये राजकुमार शाही ख़ानदानों के बिजली और पानी के बिलों के सरकारी खजाने से भुगतान पर रोक का विरोध कर रहे थे.

गिरफ़्तार राजकुमारों के नाम अभी सार्वजनिक नहीं किए गए हैं.

सऊदी अरब सरकार ने फ़ैसला लिया है कि शाही परिवार से जुड़े लोग अब अपने बिल ख़ुद चुकाएंगे.

सऊदी सरकार ने सार्वजनिक ख़र्चों में कटौती की है और कई तरह की सरकारी सब्सिडी भी बंद कर दी हैं..

'राजनीतिक बंदियों को रिहा करे सऊदी अरब'

सऊदी अरब और ईरान में कौन है ताक़तवर?

कितने अरब रुपए देकर छूटेंगे सऊदी शहज़ादे?

सऊदी अरब ने नए साल से स्थानीय बाज़ार में पेट्रोल उत्पादों के दाम दोगुने कर दिए थे और पांच प्रतिशत का वस्तु और सेवा कर भी लगाना शुरू किया है.

पिछले साल से जारी हैं 'सुधार'

राजकुमारों के प्रदर्शन के बारे में सबसे पहले ख़बर एक सऊदी वेबसाइट पर प्रकाशित की गई थी.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक सऊदी अरब के महाअभियोजक ने एक बयान जारी कर राजकुमारों की गिरफ़्तारी की पुष्टि की है.

इन राजकुमारों को एक अति सुरक्षित जेल में रखा गया है. महाभियोजक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि देश में कोई भी क़ानून से ऊपर नहीं है.

बीते साल नवंबर में सऊदी अरब में भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ की गई कार्रवाई में दर्जनों राजकुमारों को गिरफ़्तार किया गया था. इनमें कुछ पूर्व मंत्री भी शामिल थे.

सऊदी अरब के शाही परिवार में हज़ारों लोग हैं लेकिन धन और सामाजिक प्रतिष्ठा के मामले में शाही परिवार में ग़ैर बराबरी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे